कांग्रेस का अनौखा विरोध: खेतों में बैल के साथ लगकर चलाया हल

ग्वालियर। अतुल सक्सेना| पेट्रोल डीजल की मूल्य वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस आक्रोशित है उसका कहना है कि केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की शिवराज। सरकार को ना तो किसान और ना ही आम जनता की फिक्र है। आक्रोशित कांग्रेस नेताओं ने खेतों में पहुँचकर बैल के साथ खुद लगकर खेतों में हल चलाया।

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव मितेंद्र दर्शन सिंह ने झांसी रोड पर स्थित कोटे की सराय गाँव पहुंचकर खेतों में हल चलाया। ये प्रदर्शन आम प्रदर्शन से अलग हटकर था। हल में दो बैल नहीं थे बल्कि एक तरफ बैल था तो दूसरी तरफ खुद मितेंद्र लगे थे । इस तरह बैल के साथ हल में लगकर युवा नेता मितेंद्र ने खेतों में उतरकर खेत जोतने के सबसे पुराने साधन हल को चलाया। इस अवसर पर मितेंद्र ने कहा कि पेट्रोल डीजल के दाम अगर ऐसे ही बढ़ते रहे तो वह दिन दूर नहीं जब हमें ट्रैक्टर और आधुनिक साधन छोड़कर दोबारा हल से खेत जोतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जिस खेत की जुताई आज से 5 साल पहले 150 रुपये प्रति बीघा हुआ करती थी वह आज 500 रुपये बीघा होने लगी है । उसी प्रकार जो यूरिया , डीएपी खाद का खर्चा 400 रुपये था , वह अब 1250 का हो गया है | 2014 में मोदी सरकार ने वादा किया था कि किसानों की आय दोगुनी करेंगी । आय तो बढ़ी नहीं बल्कि खेतों की जुताई महंगी हो गयी, यूरिया खाद , बीज सब महंगा हो गया, जिस से लागत 3 गुना बढ़ गयी है । कोरोना की इस महामारी में ये मोदी और शिवराज सरकार राहत नहीं आफत लायी है । पेट्रोल डीजल के दाम में केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी , वैट व अन्य उपकरों के रूप में प्रति लीटर पेट्रोल पर 65 रुपये तक की वसूली कर रही है । मितेंद्र ने कहा कि मैं मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार और केंद्र की मोदी सरकार से मांग करता हूँ कि टैक्स में कम से कम 30 रुपये तक की छूट दी जाए ताकि किसानों व आम आदमी का घर आसानी से चलाया जा सके ।
कार्यक्रम में युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव मितेंद्र दर्शन सिंह के साथ शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा , ब्लाक अध्यक्ष राकेश गुर्जर , जिला कार्य कार्यकारी अध्यक्ष मोहन माहेश्वरी , उपाध्यक्ष अशोक प्रेमी , वरिष्ठ कांग्रेस नेता अनूप कुशवाह , डॉ दीपेन्द्र तमोटिया , जिला सचिव कुलदीप कौरव , राजेंद्र जाटव, दलवीर बोहरे , भीम यादव , मुकेश गुर्जर , जस्सो गुर्जर , अलकार गुर्जर , विकास शर्मा सहित ग्रामवासी उपस्थित थे |