शहरी विधानसभाएं तय करेंगी ग्वालियर से कौन संभालेगा संसद में कुर्सी

Urban-Legislature-Will-Determine-Who-Will-reach-Parliament-from-gwalior

ग्वालियर । लोकसभा चुनाव के छठे चरण में प्रदेश के आठ लोकसभा क्षेत्रों में रविवार को मतदान है | जिनमे ग्वालियर सीट भी शामिल है| यहां मुकाबला कड़ा है| लेकिन अभी तक जो तस्वीर सामने आई है उसके हिसाब से शहरी क्षेत्र की तीन विधानसभाएँ तय करेंगी कि ग्वालियर से दिल्ली कौन पहुंचेगा। 

भाजपा प्रत्याशी विवेक शेजवलकर और कांग्रेस प्रत्याशी अशोक सिंह की तुलना करें तो फिलहाल मामला 50 -50 पर जाकर रुक जाता है । कहीं कहीं ग्रामीण क्षेत्र में जहाँ अशोक सिंह का पलड़ा भारी है तो कहीं कहीं शहरी क्षेत्र में विवेक शेजवलकर भारी पड़ते दिखाई दे रहे हैं। अब यदि बात विधानसभावार स्थिति की करें तो करैरा से कांग्रेस की स्थिति मजबूत मजबूत दिखाई दे रही है तो पोहरी में कमजोर । क्योंकि पोहरी में किरार वोट ज्यादा हैं जो सभी शिवराज सिंह चौहान के कारण विवेक शेजवलकर के खाते में जाते दिख रहे हैं। अब ग्वालियर ग्रामीण,भितरवार और डबरा विधानसभा की बात करें तो यहाँ भी कांग्रेस मजबूत दिखाई दे रही है । 

उधर अब शहरी क्षेत्र की विधानसभाओं ग्वालियर दक्षिण,ग्वालियर पूर्व और ग्वालियर की बात करें तो यहाँ जातिगत समीकरण अलग है। यहाँ व्यापारी और शिक्षित वर्ग अधिक है जो विवेक शेजवलकर को फेवर करता दिखाई दे रहा है इसके अलावा इन तीनों शहरी विधानसभाओं में कांग्रेस को भितरघातियों से भी खतरा है। क्योंकि यहाँ के सिंधिया समर्थक नेताओं ने ग्वालियर से ज्यादा गुना में ध्यान दिया है जिसका फायदा भाजपा को मिलता दिखाई दे रहा है। साथ ही विवेक शेजवलकर का महापौर होने के नाते शहरी लोगों के साथ सतत संपर्क भी उन्हें यहाँ फायदा दिलाएगा। बहरहाल सुबह 12 मई को तय होगा कि कौन संसद पहुंचेगा विवेक शेजवलकर या अशोक सिंह।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here