30 हजार का शातिर इनामी लुटेरा गिरफ्तार, आईजी ने की टीम को इनाम देने की घोषणा

ग्वालियर । स्टेट बैंक की सिटी सेंटर शाखा ने पिछले महीने 23 अक्टूबर को दिन दहाड़े गैस एजेंसी के मुनीम के साथ साढ़े चार लाख रुपए की लूट करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के एक और सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।  आईजी ने पिछले दिनों इसपर 30 हजार का इनाम घोषित किया था। इस गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है । आईजी ने आरोपी को गिरफ्तार करने वाली टीम को इनाम देने की घोषणा की है।

पिछले कुछ महीनों में शहर में ताबड़तोड़ लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार कर चुकी ग्वालियर क्राइम ब्रांच ने गिरोह में शामिल आखिरी सदस्य  तीस हजार के इनामी बदमाश राजा बाल्मीकि को  को गिरफ्तार करने में  सफलता हासिल की  है। डीएसपी क्राइम रत्नेश तोमर के मुताबिक राजा बाल्मीकि शातिर बदमाश है इससे पूछ ताछ की जा रही है उम्मीद है कि अभी कई लूट की वारदातों का खुलासा हो सकता है। राजा की  गिरफ्तारी पर आईजी(एडीजीपी) ग्वालियर राजाबाबू सिंह ने क्राइम ब्रांच टीम को पुरस्कार देने की  घोषणा की है। श्री तोमर ने बताया कि क्राइम ब्रांच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि तीस हजार का इनामी बदमाश शहर के गुड़ी गुड़ा नाका  स्थित सरकारी मल्टी के फ्लैट E-213 में आया हुआ है।  सूचना पर पुलिस ने बदमाश की घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया।  पुलिस का कहना है कि लूट का आरोपी राजा उर्फ रंजीत उर्फ राजेंद्र चौहान बाल्मीकि

पिछले दिनों हुई शहर में लूट की वारदातों में शामिल रहा है।। गौरतलब है कि 23 अक्टूबर को इस गिरोह ने पीताम्बरा गैस एजेंसी के मुनीम वासुदेव शर्मा से सिटी सेंटर की एसबीआई शाखा से साढ़े चार लाख रुपए गोली मारकर लूट लिए थे। उसके बाद पुलिस ने CCTV फुटेज के आधार पर आरोपी प्रोपर्टी डीलर धर्मेन्द्र, शार्प शूटर नवीन शर्मा , नवाब गुर्जर,आकाश जाट,तपेश कुमार उर्फ़ टीटू पंडित को गिरफ्तार किया था । इन बदमाशों ने लूट की चार वारदात करना स्वीकार किया था। तब राजा बाल्मीकि पुलिस पकड़ में नहीं आ सका था। गिरोह के आधे सदस्य उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। पुलिस राजा से कड़ी पूछ ताछ कर रही है ।