पूर्व मंत्री का अफसरों को धमकाते Video Viral- जहां रहोगे, वही हिसाब करेंगे, BJP का तंज

विधायक लाखन सिंह यादव ने कहा कि नौकरी को नौकरी की तरह किया जाना चाहिए, अति करने पर हमें संघर्ष करना आता है।

भितरवार, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में इन दिनों सियासत (politics) एक बार फिर से तेज हो गई। इसी बीच अफसरों को धमकाने सहित वीडियो वायरल (video viral) होने का सिलसिला जारी है। दरअसल अब पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव (lakhan singh yadav)  का एक वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर तेजी से वायरल (viral) हो रहा। जिसमें वह भितरवार में हाल ही में आयोजित कार्यक्रम में अफसरों को धमकी देते सुनाई दे रहे हैं।

Read More: Itrasi : स्टेशन पर पठानकोट एक्सप्रेस से RPF ने पकड़ी विदेशी नस्ल की बिल्लियां, तस्करी की आशंका

दरअसल मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव ने अफसरों को धमकाया है लखन सिंह यादव ने मंच से थानेदार और अफसरों को धमकी देते हुए कहा है कि जब हमारी सरकार आएगी तो प्रदेश में जहां भी रहोगे, वही हिसाब करेंगे। इतना ही नहीं लाखन सिंह यादव ने कहा कि 15 महीने हमारी सरकार थी तो तुम हमारे कार्यकर्ताओं के सामने दुम हिलाते थे जिन पर अब मध्यप्रदेश में मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि लाखन सिंह यादव 3 दिन पहले दरबार में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे इस दौरान खुले मंच से उन्होंने थानेदार अवसरों को धमकी दी है।

पूर्व मंत्री के इस धमकी भरे वीडियो पर बीजेपी (BJP) ने तंज कसा है। बीजेपी ने कहा कि corona और बाढ़ के दौरान जनता को पीठ दिखा कर भागने वाले यह नेता अफसरों और थानेदारों को धमका रहे हैं। इन कांग्रेसी नेताओं को सत्ता में वापस आने का सपना देखना छोड़ देना चाहिए।

Read More: भीषण सड़क हादसा : मजदूरों से भरे पिकअप वाहन की ऑल्टो से भिड़ंत, 8 गंभीर घायल

बता दें कि ग्वालियर जिले के भितरवार में कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव 3 दिन पहले एक आंदोलन में शामिल हुए थे। इस दौरान बाढ़ पीड़ितों के लिए उन्होंने धरना प्रदर्शन किया था। साथ ही खुले मंच से उन्होंने थानेदार समाधिया के खिलाफ धमकी भरे शब्दों का इस्तेमाल किया था।

लाखन सिंह यादव ने कहा था कि भीतरवार में नया थानेदार आया है। जिसकी उम्र अभी बहुत कम है, उन्होंने कहा हमारे कार्यकर्ताओं को झूठे मुकदमे में फंसाने और उन्हें धमकी देना बंद करो वरना हमारी सरकार आएगी तो प्रदेश में जहां भी रहोगे, वही तुम्हारा हिसाब करेंगे। इसके साथ ही विधायक लाखन सिंह यादव ने कहा कि नौकरी को नौकरी की तरह किया जाना चाहिए, अति करने पर हमें संघर्ष करना आता है।