कोरोना मरीज ने ऐसा क्या कहा कि सिंधिया को जोड़ने पड़े हाथ, देखें वीडियो

कोरोना मरीज की बात सुनते ही सिंधिया ने उसके हाथ जोड़े और बोले कि अरे अरे ऐसा मत कहो भैया, ऐसा मत कहो।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia ) आज गुरुवार को ग्वालियर (Gwalior News) के एक दिवसीय दौरे पर हैं। उन्होंने ग्वालियर स्मार्ट सिटी कंपनी  के कंट्रोल कमांड सेंटर (Control Command Center of Gwalior Smart City Company) पहुंचकर होम आइसोलेट कोरोना मरीजों (Home Isolated Corona Patients) से बात की। एक मरीज से बात करने के दौरान मरीज ने सिंधिया से कहा कि मैं चाहता हूँ कि मुझे बार बार कोरोना हो जिससे आप मुझसे बात कर सकें, इसपर सिंधिया ने हाथ जोड़कर कहा कि भैया ऐसी बात नहीं करो, ठीक होने के बाद आकर मुझसे मिलना।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मोतीमहल पहुंचकर वहां ग्वालियर स्मार्ट सिटी कंपनी के कंट्रोल कमांड सेंटर में कोरोना की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों के साथ बैठक कर ग्वालियर जिले में कोरोना की समीक्षा की।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : सोना लुढ़का, चांदी में बड़ी गिरावट, जानिए ताजा रेट

सिंधिया ने ग्वालियर स्मार्ट सिटी द्वारा संचालित कोविड हेल्पलाइन सेवा द्वारा होम आइसोलेटेड कोरोना मरीजों से फोन कॉल एवं व्हाट्सअप वीडियो सिस्टम से उनका हाल चाल जाना। सिंधिया ने कई महिला और पुरुष मरीजों से उनकी तबियत पूछी और प्रशासन के सहयोग के बारे में जानकारी ली।

ये भी पढ़ें – MP Corona : कम हुई कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में 9532 नए पॉजिटिव, एक्टिव केस 71000 के पार

अधिकांश मरीजों ने ग्वालियर जिला प्रशासन की कोविड हेल्प लाइन सेवा और स्मार्ट सिटी के कंट्रोल कमांड सेंटर से डॉक्टर्स की सलाह एवं दवाई किट दिए जाने की तारीफ की। इसी दौरान सिंधिया एक मरीज मृगांत से जब बात कर रहे थे और मरीज से उनके लक्षणों के बारे में पूछ रहे थे तो सिंधिया के वीडियो कॉल से अभिभूत मरीज ने कहा कि ऐसा कोविड बार बार हो महाराज जिससे आपसे बात करने का मौक़ा मुझे मिले।

ये भी पढ़ें – Gwalior news: घर में सो रहे परिवार पर टूटकर गिरी छत, मां – बेटी की दर्दनाक मौत

कोरोना मरीज की बात सुनते ही सिंधिया ने उसके हाथ जोड़े और बोले कि अरे अरे ऐसा मत कहो भैया, ऐसा मत कहो। भगवान ना करे, आप स्वस्थ हो जाएँ, अपना ख्याल रखना  आप जब ठीक हो जाएँ तब तो आकर मुझसे मिलना।