…जब ऊर्जा मंत्री ने खुद फावड़ा लेकर चेक की सड़क की गुणवत्ता, फिर हुआ ये

उन्होंने वहां मौजूद लोगों को निर्देशित करते हुए कहा कि सड़क बनाते समय गुणवत्ता में कमी नहीं आना चाहिए।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। अपनी अलग कार्यशैली को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Energy Minister Pradyuman Singh Tomar) सोमवार देर शाम भी अलग अंदाज में दिखाई दिए। उन्होंने शिंदे की छावनी से बहोडापुर तक बनाई जा रही सड़क का निरीक्षण किया लेकिन मौके पर कोई जिम्मेदार अधिकारी नहीं होने पर नाराजगी जताई।  ऊर्जा मंत्री ने सडक की  क्वालिटी देखने के लिए फावड़ा मंगाया और सड़क बनाने में प्रयोग किये जारहे मटेरियल को चेक किया और फिर मौजूद लोगों को फटकार लगाई।

ग्वालियर (Gwalior) में इस समय कई जगह विकास कार्य किये जा रहे हैं।  ऊर्जा मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में भी शिंदे की छावनी से बहोडापुर तक सड़क  का निर्माण कार्य चल रहा है।  ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर सड़क की गुणवत्ता कोलेकर कुछ लोगों ने शिकायत की थी।  सोमवार देर शाम ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर सड़क निर्माण देखने अचानक पहुँच गए।

ये भी पढ़ें – खंडवा से लोकसभा उपचुनाव के प्रत्याशी राजनारायण पुरनी और जयवर्धन का वीडियो हुआ वायरल, फिर उठे सवाल

ऊर्जा मंत्री जब वहां पहुंचे तो मौके पर कोई भी इंजीनियर या वरिष्ठ अधिकारी मौजूद नहीं था , इसे लेकर मंत्री जी ने फोन कर जिम्मेदार अधिकारी से नाराजगी जाहिर की।  सड़क निर्माण की गुणवत्ता को जब मंत्री जी ने देखा तो उसमें कमियां दिखाई दी।

ये भी पढ़ें – Gwalior News : अवैध रूप से जिले से बाहर ले जाई जा रही खाद की 84 बोरी जब्त, लगेगी रासुका

उन्होंने गुणवत्ता चैक करने के लिए फावड़ा मंगाया और खुद फावड़ा चलाते हुए सड़क का मटेरियल निकाला जो आसानी ने निकल गया।  उन्होंने वहां मौजूद लोगों को निर्देशित करते हुए कहा कि सड़क बनाते समय गुणवत्ता में कमी नहीं आना चाहिए। उन्होंने कहा कि सड़क पर बनाये जा रहे डिवाइडर का कार्य शीघ्र खत्म करें जिससे सड़क का कार्य चालू हो सके।