जब व्यापारियों से ज्ञापन लेने खुद पहुँच गए मंत्रीजी, कहा-‘मैं जनता का सेवक’

When-the-minister-himself-came

ग्वालियर। विक्टोरिया मार्केट  के दुकानदार कैबिनेट  मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को ज्ञापन देना चाहते थे जिसके लिए उन्होंने मंत्री जी से समय मांगा लेकिन मंत्री जी ने कहा कि आप ज्ञापन देने नही मैं ज्ञापन लेने आपके बीच आऊंगा और मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने रात को ही खुद पहुंच कर ज्ञापन लिया और कहा कि विक्टोरिया मार्केट के व्यापारियों को घबराने की आवश्यकता नहीं है आपकी इच्छा के बिना कुछ नहीं होगा लेकिन इसके लिए इस मामले को पूरी तरह से समझने के लिए कुछ वक्त दे में पुनः इस संदर्भ में आपके बीच आऊंगा और आपकी सहमति से ही इस पर कोई निर्णय होगा । 

इस अवसर पर विक्टोरिया मार्केट के संरक्षक  डॉ प्रवीण अग्रवाल ने कहा कि जब 2010 में अग्निकांड हुआ था तब तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने आश्वासन दिया था कि दुकानदारों को महाराज बाड़ा पर ही विस्थापित किया जाएगा उसके बाद इस आशय का नगर निगम परिषद ने भी ठहराव पारित किया था लेकिन विक्टोरिया मार्केट बनने के बाद शासन ने अपना वादा नहीं निभाया है और वहाँ पर खनिज विभाग का म्यूज़ियम बनाया जा रहा है जबकि महाराज  बाड़ा प्रमुख व्यावसायिक स्थल है और सिंधिया राजवंश द्वारा विक्टोरिया मार्केट  की स्थापना भी इसी व्यापारिक गतिविधियों के लिए की गई थी इस अवसर पर विक्टोरिया मार्केट के अध्यक्ष गोपाल गुप्ता ने कहा सरकार बदल गई है और बदलाव भी दिख रहा है एक समय था हम मंत्रियो से ज्ञापन देने के लिए समय मांगते थे और मंत्री हमसे दूरी बनाते थे आज मंत्री जी से समय मांगा तो मंत्री जी स्वयं आ  गए यह बदलाव् आम जनता के लिए शुभ संकेत दे रहा है और हमे आशा है कि हमारी मांगों पर गंभीरता से विचार होगा हम लोगों की आजीविका पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है और हमारे सामने गंभीर संकट है 

इस अवसर पर डॉ प्रवीण अग्रवाल गोपाल गुप्ता प्रभात शुक्ला मुदित सिंघल कमल आयलानी नवीन भाटिया किशोर लेडवानी राहुल जैन महेंद्र अग्रवाल गौरव श्रीवास्तव दिनेश जैन संतोष जैन जीतू तोमर आदि उपस्तिथ थे