…जब कूल रहने वाले मंत्री को आया गुस्सा, कहा मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री से करूँगा शिकायत

ग्वालियर। पटाखा विस्फोट में घायल हुए मरीजों का हाल जानने जयारोग्य अस्पताल पहुंचे कूल मंत्री लाखन सिंह उस समय भड़क गए जब उन्होंने जमीन पर मरीज लेटे देखे और जगह जगह गंदगी के ढेर देखे। नाराज होते हुए उन्होंने कहा कि वे इसकी शिकायत मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री से करेंगे।

आम तौर पर कूल और अधिकारियों के साथ सहज रहने वाले वाले कमलनाथ सरकार के पशुपालन मंत्री अंचल के सबसे बड़े अस्पताल समूह जयारोग्य अस्पताल में गंदगी और मरीजों के हाल देखकर नाराज हो गए। उन्होंने अस्पताल अधीक्षक दे अशोक मिश्रा सहित अन्य  चिकित्सकों को मौके पर फटकारा और व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश दिए। नाराज मंत्री ने यहाँ तक कह दिया कि वे इसकी शिकायत मुख्यमंत्री कमलनाथ और स्वास्थ्य मंत्री तुलसी  सिलावट से करूँगा। दरअसल गत दिवस अपने विधानसभा क्षेत्र के चीनौर गांव के नोन की सराय में हुए पटाखा विस्फोट में घायल पांच लोगों को देखने आज मंत्री लाखन सिंह  जयारोग्य अस्पताल  गए थे। उन्होंने डॉक्टर्स से घायलों के उचित इलाज के निर्देश दिए। 

घायलों से मिलने के बाद मंत्री की नजर ट्रॉमा सेंटर के वॉर्डों पर पड़ी तो जमीन पर लेटे मरीजों को देख मंत्री  नाराज हो गए। अटेंडरों ने कहा कि मंत्री जी हमारा मरीज जमीन पर लेटा है रात में ठंड से परेशान होते हैं। कोई सुनता नहीं है। अटेंडर की बात सुनकर मंत्री वार्ड में गए तो मरीज जमीन पर लेटे हुए थे, साथ ही अस्पताल में भारी गंदगी पड़ी थी। अटेंडरों ने मंत्री लाखन सिंह से पलंग न मिलने, वार्ड में गंदगी होने और डॉक्टरों द्वारा सही देखभाल न किए जाने की शिकायतें की।अटेंडरों की शिकायतें सुनने के बाद मंत्री  लाखन सिंह  ने अस्पताल अधीक्षक डॉ अशोक मिश्रा सहित अन्य स्टॉफ को बुलाकर फटकार लगाई और व्यवस्थाओं को लेकर नाराजगी जताई। लाखन सिंह ने कहा कि जयारोग्य अस्पताल के हालात ठीक नहीं है। समय रहते इसे सुधार लीजिये मैं इसकी शिकायत मुख्यमंत्री कमलनाथ और स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट से करेंगे। कूल मंत्री का ऐसा रूप देखकर उनके साथ मौजूद अधिकारी और मंत्री समर्थक चौंक गए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here