किस पर भड़के कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक और क्यों…?

ग्वालियर। अतुल सक्सेना। क्षेत्र के विकास के साथ-साथ जनता एवं समाज की हर परेशानी में उनके साथ खड़े रहने वाले एवं उसका मौके पर ही निराकरण कराने वाले ग्वालियर दक्षिण विधानसभा के कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक सोमवार को अचानक जयारोग्य अस्पताल पहुंचे। लेकिन कोरोना वायरस जैसे सेंसटिव इश्यू के बावजूद अंचल के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में बदइंतजामी देखकर वे भड़क गए। उन्होंने अस्पताल अधीक्षक, मेडिकल कॉलेज के डीन को मौके पर बुलाया और नाराजगी जाहिर की। सूचना मिलते ही कलेक्टर भी JAH पहुँच गए।

कोरोना वायरस से बचाव और उसके ट्रीटमेंट के लिए किये जा रहे सरकारी प्रयासों की पोल सोमवार को समय खुल गई जब ग्वालियर दक्षिण विधायक प्रवीण पाठक जयारोग्य अस्पताल परिसर स्थित कोरोना वायरस आइसोलेशन ट्रीटमेंट वार्ड पहुंचे । उन्होंने देखा कि एक महिला मरीज पिछले दो-तीन घंटे से कोरोना वायरस का टेस्ट करवाने के लिए परेशान हो रही है । वे कोरोना वायरस आइसोलेशन ट्रीटमेंट वार्ड के अंदर पहुंचे वहां पहुंच कर उन्होंने वहां उपस्थित नर्स से पूछा कि इसका इलाज क्यों नहीं किया जा रहा है, नर्स ने कहा अभी यहां कोई डॉक्टर नहीं है डॉक्टर आने पर उनका इलाज किया जाएगा विधायक श्री पाठक इस बात से नाराज हो गए और उन्होंने कहा कि एक महिला मरीज दो-तीन घंटे से अपना इलाज कराने के लिए परेशान है और आप लोग इस तरीके से जवाब दे रहे हैं। विधायक ने नर्स से ड्यूटी डॉक्टर का नाम पूछा तो उसने नहीं बताया। गौरतलब है कि यह महिला जयपुर से ग्वालियर आई थी, इसके बाद विधायक श्री पाठक ने फोन करके अस्पताल अधीक्षक डॉ अशोक मिश्रा, डीन डॉ सरोज कोठारी, सीएमएचओ डॉ एस के वर्मा सहित ग्वालियर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह को फोन करके मौके पर बुलवाया और उस महिला मरीज को प्राथमिक उपचार के बाद आइसोलेशन के लिए एंबुलेंस से बिड़ला अस्पताल भिजवाने के लिए निर्देश दिए थोड़ी ही देर बाद महिला मरीज को बिड़ला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में पहुंचा दिया गया । अस्पताल की अव्यवस्था पर नाराजगी जताने के बाद विधायक श्री पाठक ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जिला प्रशासन एवं अस्पताल प्रबंधन द्वारा की जा रही व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली एवं व्यवस्थाओं को और बेहतर बनाने के लिए निर्देश दिए विधायक श्री पाठक ने कहा कि माधव डिस्पेंसरी ओपीडी बिल्डिंग में कोरोना वायरस संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग की जाए उसके बाद ही संदिग्धों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जाए इसके साथ साथ विधायक श्री पाठक ने कोरोना वायरस से संबंधित हेल्पडेस्क बनाने के भी निर्देश दिए । विधायक ने माधव डिस्पेंसरी जाकर स्क्रीनिंग सेंटर बनाने के लिए स्थान का निरीक्षण किया एवं इसके साथ ही सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में बनाए जा रहे कोरोना वायरस ट्रीटमेंट के लिए आइसोलेशन वार्ड भी देखा।उन्होंने निर्देश दिए कि ग्वालियर दक्षिण विधानसभा में भी कोरोना वायरस संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग के लिए अति शीघ्र एक सेंटर स्थापित किया जाए ।

विधायक ने शहर के नागरिकों से घर पर ही रहने की अपील की

विधायक प्रवीण पाठक ने शहर के लोगों से अपील की है कि वे आने वाले 15 दिनों तक घर पर ही रहे जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सके, यथासंभव भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें एवं दुकानदारों तथा व्यापारियों से भी अनुरोध किया है कि आम जनता को उनके दैनिक उपयोग की वस्तुएं जैसे दूध, फल,सब्जी इत्यादि वस्तुएं आवश्यक रूप से उपलब्ध कराकर मानवता का उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत करें। विधायक श्री पाठक ने कहा है कि वे इस संकटकाल में आम जनता के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here