पर्यावरण संरक्षण हमारी नैतिक जिम्मेदारी : कुलपति प्रोफेसर अविनाश तिवारी

प्रदूषण मुक्त वातावरण एवं स्वस्थ पर्यावरण बनाना प्रत्येक व्यक्ति की नैतिक जिम्मेदारी हैl

ग्वालियर,डेस्क रिपोर्ट। जीवाजी विश्वविद्यालय के पर्यावरण विज्ञान अध्ययन शाला में विश्व पर्यावरण दिवस (world environment day) के उपलक्ष्य में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गयाl इस अवसर लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने के लिए एवं पर्यावरण के क्षेत्र में हो रहे विभिन्न कार्यों को बताने के लिए एक प्रदर्शनी का आयोजन किया गया, जिसका शुभारंभ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अविनाश तिवारी के द्वारा किया गया l छात्र छात्राओं के द्वारा पर्यावरण के विभिन्न बिंदुओं पर पावर पॉइंट के माध्यम से मौखिक प्रस्तुतीकरण किया गया l इस अवसर पर कुलपति प्रोफेसर अविनाश तिवारी एवं अन्य प्राध्यापकों के द्वारा अध्ययनशाला में पौधारोपण किया गया l कार्यक्रम में कुलपति प्रो अविनाश तिवारी के द्वारा छात्रों को संबोधित करते हुए कहा की मानव जनित अनियंत्रित विकास के कारण पृथ्वी का तापमान निरंतर बढ़ रहा है ग्लोबल वार्मिंग से प्रति व्यक्ति पर हानिकारक प्रभाव हो रहा है तथा पर्यावरण के हानिकारक दुष्परिणामों से बचने के लिए जैव विविधता का संरक्षण, प्रदूषण मुक्त वातावरण एवं स्वस्थ पर्यावरण बनाना प्रत्येक व्यक्ति की नैतिक जिम्मेदारी हैl

यह भी पढ़े…Board Result : इस दिन जारी होंगे UP-GSHSEB-APBSE और MSBSHSE बोर्ड परीक्षा परिणाम 2022, यहां देखें नई अपडेट, ऐसे करें डाउनलोड

प्रो ईशान पात्रो ने कहा कि मनुष्य ने विकास अग्नि के अविष्कार के साथ शुरू किया और इसी विकास की आग ने पर्यावरण को जलाना शुरु कर दिया विकास के विनाशकारी परिणामों के कारण हमारी पृथ्वी पर संकट उत्पन्न हो गया है l प्रो जे एन गौतम ने छात्रों को संबोधित हुए कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रत्येक व्यक्ति का समग्र प्रयास ही वर्तमान की आवश्यकता है l इस अवसर पर प्रो एस एन महापात्रा ने जल की उपयोगिता एवं उसके संरक्षण पर अपने विचार व्यक्त किए l प्रोफेसर एसके सिंह ने प्रकृति के दोहन से वैश्विक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं एवं खतरों के बारे में छात्र छात्राओं को अवगत कराया l कार्यक्रम में सभी अतिथियों को घर के अंदर ऑक्सीजन उत्पन्न करने वाले पौधे देकर सम्मानित किया गयाl कार्यक्रम का संचालन विभागाध्यक्ष डॉ हरेंद्र शर्मा के द्वारा किया गया कार्यक्रम डीएसडब्ल्यू प्रो एस के द्विवेदी, डॉ मनोज शर्मा, डॉ निमिषा जादौन, डॉ अमिता यादव, राजेश नायक आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे l

पर्यावरण संरक्षण हमारी नैतिक जिम्मेदारी : कुलपति प्रोफेसर अविनाश तिवारी

यह भी पढ़े…इन तीन राशि वालों की आज से बदलने वाली है किस्मत है, बनी रहेगी शनिदेव की कृपा दृष्टि

कार्यक्रम के अंत में विभिन्न प्रतियोगिताओं में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्र छात्राओं को पुरस्कृत किया गया, जिसमें मौखिक प्रस्तुतीकरण कृति कपूर पर्यावरण विज्ञान विभाग को प्रथम स्थान, राघवेंद्र धाकड़,पर्यावरण विज्ञान विभाग को द्वितीय स्थान एवं तृतीय स्थान आकाश श्रीवास्तव, भूविज्ञान विभाग को और सांत्वना पुरस्कार शुभम त्रिपाठी, पर्यावरण रसायन विभाग को दिया गया पोस्टर प्रस्तुतीकरण में रौनक परसेडिया, भूविज्ञान विभाग को प्रथम स्थान पूजा तोमर और अखिलेश शर्मा, पर्यावरण रसायन विभाग को द्वितीय स्थान एवं कृति कपूर और सुरभि पर्यावरण विज्ञान विभाग, को तृतीय स्थान तथा सांत्वना पुरस्कार मेघना पाठक और दिवाकर तिवारी पर्यावरण विज्ञान, विभाग को प्रदान किया गया l