किसान कांग्रेस का सीएम को पत्र, कई किसान फसल बीमा से वंचित, अवधि बढ़ाने की मांग

Farmers-who-are-learning-to-save-environment

हरदा, डेस्क रिपोर्ट। फसल बीमा योजना की प्रीमियम भरने की अंतिम तारिख निकलने के बाद अब अवधि बढ़ाने की मांग की जा रही है| किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष अभिजीत शाह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर फसल बीमा की तरीख को 2 से तीन दिन और बढ़ाने की मांग की गई है।

टिमरनी विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी अभिजीत शाह मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कहा टिमरनी विधानसभा के रहटगांव तहसील के लगभग 40 वन ग्रामों के लगभग 8000 आदिवासी किसानों में से मात्र 3000 किसानों का ही बीमा हो पाया है| उन्होंने मांग की है कि किसानों की फसल-बीमा की तारीख को 2-3 दिन बढ़ाया जाए, साथ ही जो किसान आर्थिक तंगी से गुजर रहे है उनकों आने वाले साल 2020 की बीमा राशि से प्रीमियम काटने की सहूलियत दी जाए। आगे पत्र में लिखा गया कि प्रदेश सरकार द्वारा बढ़ाई गई तारीख के बावजूद भी अभी तक कई किसानों की फसल बीमा के अवेदन करने की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है।

आगे पत्र में बताया गया कि शासन ने वन ग्रामों के किसानों को फसल बीमा का अवेदन करने के लिए सिर्फ एक दिन ही दिया गया था, जिसके चलते फसल बीमा का अवेदन जमा नहीं हो पाया। जिला हरदा की तहसील रहटगांव के 40 वनग्राम है जिनके फसल बीमा के आवेदन अभी तक जमा नहीं हो पाए है, जिसके चलते किसानों को फसल बीमा से वंचित रहना पड़ेगा। साथ ही पत्र में फसल बीमा की तारीख बढ़ाने के साथ-साथ, जो किसान आर्थिक तंगी से गुजर रहे है उनको साल 2020 की बीमा राशि या तेंदू पत्ता की राशि के प्रीमियम काटने की सहूलियत दी जाए।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के पत्र लिखने के बाद केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का पैसा जमा कराने की अवधि 7 सितंबर तक बढ़ा दी थी| केंद्र सरकार के फैसले से प्रदेश के बाढ़ प्रभावित पांच जिले रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, देवास और हरदा जिले के किसानों को लाभ मिला| हालाँकि अब कई जिलों में किसान फसल बीमा नहीं करा पाए हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here