MP: कृषि मंत्री कमल पटेल ने किसानों को दी बड़ी राहत, व्हाट्सएप के जरिए मिलेगा लाभ

इसके साथ कृषि मंत्री कमल पटेल हरदा में 37 लाख 12 हजार रुपए की लागत से कृषि विज्ञान केंद्र के प्रशासनिक भवन का शुभारंभ किया।

politics-again-on-farmers-in-loksabha-election--bjp-will-attack-on-debt-waivers-

हरदा, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में प्रभावित किसान आंदोलन (farmer protest) के बीच कृषि मंत्री कमल पटेल (kamal patel) ने किसानों को बड़ी राहत दी है। जहां मध्य प्रदेश में सबसे पहली कृषि ओपीडी का शुभारंभ किया गया है। कृषि ओपीडी के शुभारंभ के साथ ही किसान फसल की फोटो भेज कर ही फसल की बीमारी का निदान पा सकेंगे।

दरअसल हरदा में किसानों को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि अब किसान बंधु कीट व्याधि युक्त फसल का फोटो व्हाट्सएप (whatsapp) पर भेज मोबाइल पर ही निदान के उपाय जान सकेंगे। इसके साथ ही उन्हें त्वरित उपचार के उपाय भी मोबाइल पर उपलब्ध कराए जाएंगे। मध्य प्रदेश के हरदा जिले में पहली कृषि ओपीडी का शुभारंभ किया गया है।

Read More:इस अधिनियम के संशोधन की तैयारी में शिवराज सरकार, यह है कारण

इतना ही नहीं कृषि मंत्री कमल पटेल ने कृषि विभाग के अधिकारी को निर्देश दिया है कि प्रत्येक गांव में किसान चौपाल लगाकर फसल ओपीडी की जानकारी दी जाए। इसके साथ ही किसानों की फसल में लगने वाली किट से संबंधित समस्याओं का समाधान चौपालों में ही किया जाए।

दूसरी ओर रबी और खरीफ फसल में लगने वाली बीमारी और उनके उपचार के लिए कैलेंडर तैयार करने के निर्देश भी कृषि मंत्री ने कृषि वैज्ञानिक और अधिकारियों को दिए हैं। इसके साथ कृषि मंत्री कमल पटेल हरदा में 37 लाख 12 हजार रुपए की लागत से कृषि विज्ञान केंद्र के प्रशासनिक भवन का शुभारंभ किया।