जबलपुर हाईकोर्ट में हुई नर्सों की हड़ताल पर सुनवाई, HC का तर्क- नर्स हड़ताल बंद करें तो हम बातचीत करने को हैं तैयार

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में अब इस मामले की अगली सुनवाई दो दिन बाद 7 जुलाई को रखी गई है

जबलपुर, संदीप कुमार। 10 सूत्रीय मांगों को लेकर बीते छह दिनों से काम बंद कर हड़ताल पर गई नर्सो की प्रदेश व्यापी हड़ताल पर हाईकोर्ट अब धीरे-धीरे सख्त हो रहा है। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में आज हुई सुनवाई पर एमपी नर्सिंग एसोसिएशन की प्रदेश अध्यक्ष रेखा परमार को नोटिस जारी किया गया है। हाई कोर्ट ने नोटिस देते हुए रेखा परमार को निर्देशित किया है कि वह अगली सुनवाई में हाजिर होकर अपना जवाब पेश करें।

ये भी पढ़ें नेमावर केस में पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे पूर्व सीएम कमलनाथ

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में अब इस मामले की अगली सुनवाई दो दिन बाद 7 जुलाई को रखी गई है। इधर नर्सों की हड़ताल को लेकर राज्य सरकार ने हाईकोर्ट में तर्क दिया है कि हम बातचीत करने को तैयार है पर नर्स हैं कि अपनी हड़ताल जारी रख बात करने को तैयार नहीं हैं। राज्य सरकार ने हाई कोर्ट को बताया कि वर्तमान में 30 से 50 फीसदी नर्स ही हड़ताल पर हैं। हांलाकि सरकार का दावा है कि वैकल्पिक व्यवस्था कर स्वास्थ्य महकमें को सुचारू रूप से चलाया जा रहा है।

स्टॉक लिमिट को लेकर अब व्यापारी नाराज, इंदौर में दो दिवसीय हड़ताल शुरू