युद्ध स्तर पर चल रही नपा की सफाई मुहिम, सीएमओ वार्ड में जाकर पूछ रही कचरा गाड़ी आती है या नहीं

न सिर्फ रात के वक्त बल्कि दिन में भी सफाई कर्मचारी विभिन्न वार्डों में लगातार काम कर रहे हैं

इटारसी, राहुल अग्रवाल| नगर को स्वच्छता में नंबर 1 बनाने के लिए नगर पालिका ने कमर कस ली है। स्वच्छ सर्वेक्षण की तैयारियों के अंतर्गत नगर पालिका के स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहर में युद्ध स्तर पर सफाई कार्य किया जा रहा है। न सिर्फ रात के वक्त बल्कि दिन में भी सफाई कर्मचारी विभिन्न वार्डों में लगातार काम कर रहे हैं।

सीएमओ के मार्गदर्शन और स्वच्छता निरीक्षक के नेतृत्व में बाजार क्षेत्र के अलावा वार्डस्तर पर भी कर्मचारी लगातार काम कर रहे हैं। स्वयं सीएमओ हेमेश्वरी पटले जहां से भी गंदगी की जानकारी मिलती है, अचानक उस जगह पहुंचकर स्वास्थ्य अमले को बुलाकर सफाई कराती और नागरिकों से सफाई का फीडबैक भी ले रही हैं। आज शनिवार को भी जयस्तंभ के आसपास, मनजीत होटल के सामने से चिकमंगलूर चौराहे होते हुए रेस्ट हाउस के पास तथा होटल श्रीदेवी (के सामने नाली की सफाई कराई गई। रेस्ट हाउस के पास जहां पहले चौपाटी थी, वहां का कचरा उठाया गया। यहां दीपावली के लिए बाजार लगाया जाना है। दो दिन पूर्व ही सूरजगंज में शंकर मंदिर के पास गली में गंदगी की सूचना मिलने पर सीएमओ श्रीमती पटले ने वहां का निरीक्षण कर सफाई के निर्देश दिये थे।

अभी भी है जागरुकता की जरूरत
नगर पालिका स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की दौड़ में टॉप रैंकिंग के लिए नगर पालिका युद्ध स्तर पर शहर को स्वच्छ बनाने प्रयास कर रही है। न सिर्फ दिन में बल्कि रात में भी बाजार क्षेत्र को साफ-सुथरा बनाने के प्रयास किये जा रहे हैं लेकिन, अब भी कुछ दुकानदार ऐसे हैं जो स्वयं की आदतों में बदलाव लाना नहीं चाहते। सफाई कर्मी रात में बाजार क्षेत्र की सफाई करते हैं और सुबह सुबह जब दुकानदार दुकानें खोलते हैं तो दुकान की सफाई करके कचरा रोड पर डाल देते हैं।

हर नागरिक का कर्तव्य
हम अपने सीमित संसाधनों से जितना संभव हो सकता है, शहर को साफ-सुथरा करने का प्रयास करते हैं। कभी-कभी कुछ सख्त निर्णय भी लेने पड़ते हैं। लेकिन, जब तक स्वयं नागरिक आगे आकर अपने शहर को साफ रखने में रुचि नहीं लेंगे तो हम स्वच्छता की रैंकिंग में पिछड़ते रहेंगे। शहर को स्वच्छ रखना हर नागरिक का भी कर्तव्य है।
हेमेश्वरी पटले CMO इटारसी