फसल निगरानी दल द्वारा ग्रामों में किया जा रहा है सतत् निरीक्षण, किसानों को दी जानकारी

होशंगाबाद,राहुल अग्रवाल। जिले में फसलों को कीट व्याधि के प्रकोप से बचाव हेतु फसल निगरानी दल द्वारा सतत् निरीक्षण किया जा रहा है। निगरानी दल द्वारा विकासखण्ड बाबई के ग्राम मंगरिया, चांदला, सांगाखेड़ाकलां, कडैया व चीलाचौन आदि ग्रामो में फसलो का निरीक्षण किया गया है। कृषि वैज्ञानिकों द्वारा बताया गया कि धान की फसल में बैक्टीरियल लीफ ब्लाईट रोग से पौधे के पत्तियों के किनारे ऊपरी भाग से शुरू होकरमध्य भाग तक सूखने लगते है। सूखे पीले पत्तों के साथ-साथ राख के रंग जैसे धब्बे भी दिखाई देते हैं एवं पूरी फसल झुलसी प्रतीत होती है। इसके प्रबंधन के लिए खेत में नाइट्रोजन की पूर्ति के लिए यूरिया की टाप ड्रेसिंग नहीं करनी चाहिए एवं कॉपर ऑक्सिक्लोराइड 400 ग्राम प्लस स्ट्रेप्टोसाइक्लिन 30 ग्राम प्रति एकड़ की दर से 200 लीटर पानी के साथ प्रभावित फसल पर छिड़काव करें।

वहीं धान की फसल में बैक्टीरियल लीफ स्ट्रीक के कारण धान की पत्तियों की नसों के बीच भूरे रंग की धारियां बन जाती है, इस रोग के नियंत्रण हेतु कॉपर ऑक्सिक्लोराइड का सुगामाइसिन 300 ग्राम अथवा कॉपर ऑक्सिक्लोराइड 400 ग्राम, स्ट्रेप्टोसाइक्लिन 30 ग्राम प्रति एकड़ की दर से 150 लीटर पानी के साथ प्रभावित फसल पर छिड़काव करें। इसके अलावा धान में ब्लास्ट रोग अर्थात पत्तियों पर नाव के समान धब्बे जिनके चारो ओर भूरापन दिखाई पड़ता है, उसके नियंत्रण के लिए ट्राईसाईक्लाजोल एक मिली लीटर प्रति लीटर पानी की दर से घोल बनाकर छिड़काव करें। वहीं उड़द की फसल में पीला मोजक रोग के नियंत्रण हेतु किसान थयोमेथेक्जाम 1 ग्राम प्रति लीटर पानी की दर से घोल बनाकर छिड़काव करें।

बताया गया कि इस समय धान की फसल कहीं-कहीं गभोट की अवस्था में है, जबकि कहीं बालियां निकलना शुरू हो गयी है। फाल्स स्मट (आभासी कंडवा) रोग की समस्या बहुतायत देखी गई थी। किसान भाई इस रोग के लक्षण दिखाई पड़ने पर रोग से बचाव हेतु जैसे ही धान की फसल में लगभग 50 प्रतिशत तक बालिया। निरीक्षण दल में आंचलिक कृषि अनुसंधान केन्द्र पवारखेड़ा के कृषि वैज्ञानिक डॉ केके मिश्रा, कार्यालय संयुक्त संचालक कृषि होशंगाबाद के सहायक संचालक सुनील धोटे, अनुविभागीय कृषि अधिकारी होशंगाबाद राजीव यादव, ग्रामीण कृषि विसतार अधिकारी बाबई पीके चौधरी शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here