विद्युत विभाग के विरोध में उतरे किसान, सब स्टेशन का किया घेराव, अधिकारियों पर लगाया तानाशाही का आरोप

ग्राम जमानी में धरना प्रदर्शन करनें के पश्चात भारतीय किसान संघ के कार्यकर्ता एवं किसान रैली के रूप में सबस्टेशन पहुंचे जहां पर बिजली अधिकारियों से चर्चा की और निराकरण करनें की बात करके 5 दिन के बाद उहाप्रबंधक कार्यालय घेरनें की चेतावनी दी

इटारसी, राहुल अग्रवाल| आज जमनी सबस्टेशन का घेराव किया गया जिसमें भारी संख्या में आक्रोशित किसान उपस्थित रहे । भारतीय किसान संघ के तत्वाधान में किए गए धरना प्रदर्शन में संघ पदाधिकारियों ने बिजली विभाग के अधिकारी,कर्मचारियों पर तानाशाही के आरोप लगाए ।

ग्राम जमानी में धरना प्रदर्शन करनें के पश्चात भारतीय किसान संघ के कार्यकर्ता एवं किसान रैली के रूप में सबस्टेशन पहुंचे जहां पर बिजली अधिकारियों से चर्चा की और निराकरण करनें की बात करके 5 दिन के बाद उहाप्रबंधक कार्यालय घेरनें की चेतावनी दी । भारतीय किसान संघ के जिला मंत्री संतोष पटवारे नें बताया कि जमानी सबस्टेशन के अंतर्गत अनेक ग्रामों में समतल कृषि भूमि नही होनें से रात के समय सिंचाई करना मुश्किल हो रहा है| भीषण ठंड की वजह से भी किसान रात के समय सिंचाई नही कर पाता एक तरफ विभाग दिन में अपनें विभागीय कार्य करता है तो दूसरी तरफ किसान कैसे रात के समय जागकर सिंचाई कर पाएगा । किसानों को दिन के समय ही 10 घंटे बिजली प्रदान की जाए ।

संभागीय उपाध्यक्ष उदय पांडे नें भी बिजली विभाग के अधिकारियों पर तानाशाही का आरोप लगाकर कहा कि विभाग किसानों से दुर्व्यहार कर रहा है कोई अधिकारी कर्मचारी किसानों से सम्मानजनक बात नही करता है ना ही दफ्तरों में किसानों के फोन उठाए जाते है । अगर ये तानाशाही बंद नहीं हुई तो किसान एकजुट होकर विभाग के खिलाफ आवाज उठाएंगे । जिला उपाध्यक्ष मोरसिंह राजपूत नें कहा कि किसान को ट्रांसफार्मर बदलनें के लिए महीनों तक विभाग के दफ्तरों के चक्कर लगानें पड़ते है फिर भी उनकी सुनवाई नहीं की जाती है अनेकों बार पैसों की मांग करके ट्रांसफार्मर बदलते है बिजली विभाग की तानाशाही किसानों पर भारी है जिसका पुरजोर विरोध होगा । भारतीय किसान संघ नें रैली निकालकर सबस्टेशन के बाहर नारेबाजी कर उपमहाप्रबंधक विवेक चावरे को ज्ञापन सौंपा