होशंगाबाद, राहुल अग्रवाल। पिछले दिनों होशंगाबाद व आसपास के हिस्सों में आई बाढ़ ने सब्ज़ियों कर भाव पर भी असर डाला है। सब्जियों के बढ़ते दाम ने गृहणियों के रसोई का बजट बिगाड़ कर रख दिया है।

इन दिनों हरी सब्जियों के भाव आसमान छू रहे हैं। हरी मिर्च तक के दाम दुगुने हो गए हैं वहीं हरी धनिया ने रिकॉर्ड तोड़ते हुए 400 रूपये किलो तक बिक रही है। महंगी सब्जियों की वजह ग्रामीण क्षेत्रों से माल सप्लाई प्रभावित हो रही है, वहीं सब्जियों के दामों में एकाएक उछाल आने से आम आदमी कम सब्जी खरीद रहा है। लहसुन प्याज से लेकर टमाटर तक के दामों में उछाल आ गया है। इसके पीछे का कारण होशंगाबाद, नरसिंहपुर व आसपास के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में बाढ़ भी बड़ी वजह है। यहां कई किसानों की सब्जियों की फसल बर्बाद हो गई है जिस कारण बाजारों में सब्जी की सप्लाई कम हुई है। इसका सीधा असर आम आदमी की रसोई पर पड़ा है।

इन दामों पर बिक रही सब्जियां
सब्जी मंडी में टमाटर ₹60 प्रति किलोस आलू ₹40 प्रति किलो ,लहसुन ₹160 प्रति किलो, प्याज ₹30 प्रति किलो, बरबटी ₹80 प्रति किलो, तोरई ₹80 प्रति किलो, परवल ₹80 प्रति किलो, शिमला मिर्च ₹100 प्रति किलो, खीरा ₹80 प्रति किलो खीरा और गाजर ₹40 प्रति किलो तक बिक रहे हैं।