खुलेआम हो रहा रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन, कार्रवाई नहीं कर रहे अधिकारी

इटारसी/होशंगाबाद, राहुल अग्रवाल| जिले में रेत उत्खनन, भण्डारण व परिवहन पर शासन द्वारा रोक लगा रखी है। इसके बावजूद क्षेत्र की तवा की गूजरवाड़ा खदान से अवैध उत्खनन व परिवहन (Illegal Sand mining and transportation) खुले आम जारी है। सैकडों की तादाद में रात से लेकर सुबह 9 बजे तक अवैध व ओवरलोड डंपरों की कतार लगी रहती है।

ये डंपर नगर के मुख्य मार्ग से सरेआम गुजरते हैं। मगर कोई इनकी जांच करते वाला नहीं है। जिला प्रशासन ने इनकी जांच के लिए तीन चाैकी भी बना रखी है। पर वहां भी इनकी जांच नहीं हाे पा रही है। देखा गया कि परिवहन करने वाले अनेकों डंफर के नम्बर मिटे हुए मिले। तवा नदी के किनारे देखा गया की ग्रामीणों द्वारा ट्रैक्टर ट्रॉली द्वारा तवा किनारे छोटे छोटे स्टॉक बना रखे हैं। इन्हीं स्टॉक से लोडर द्वारा डंफर भरे जाते हैं, रेत माफियाओं में प्रशासन का जरा भी भय नजर नहीं आता। कीरपुरा मार्ग पर गुरुवार काे बिगड़ा डंफर दिन भर सुधारते रहे वहीं हाइवे से भी वाहन बेरोकटोक गुजरे। बाबई के इंदौरी चौक पर हमेशा पुलिस की ड्यूटी रहती है। यहीं से ये डंपर नसीराबाद की ओर जाते हैं।

निगरानी करते हैं रेत चाेर
जगह जगह रेत चाेर ग्रुप बनाकर निगरानी करते रहते हैं, इंदौरी चौक, माखनलाल प्रतिमा स्थल तिराहा स्थित पेट्रोल पंप पर दर्जनों युवा निगरानी कर सूचना देते रहते हैं। जिससे की पुलिस और प्रशासन की टीम निकलने से पहले ही रेत चाेराे काे इसकी जानकारी लग जाती है।

सभी खदान और स्टाॅक बंद हैं। अभी सारी खदानें बंद हैं, पुलिस के साथ सामंजस्य बनाकर शीघ्र कार्रवाई की जाएगी।
अर्चना ताम्रकार खनिज निरीक्षक