इटारसी : होटल में फर्जी तरीके से कर रहा था मरीजों का इलाज, पुलिस ने की कार्रवाई

इटारसी (itarsi) शहर में एक झोलाछाप डॉक्टर फर्जी तरीके से होटल में मरीजों का इलाज कर रहा था। जिसकी जानकारी जैसे ही प्रशासन को लगी, तो प्रशासन और पुलिस अमला होटल पहुंचा और कार्रवाई की है।

इटारसी, राहुल अग्रवाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के इटारसी (itarsi) शहर में एक झोलाछाप डॉक्टर फर्जी तरीके से होटल में मरीजों का इलाज कर रहा था। जिसकी जानकारी जैसे ही प्रशासन को लगी, तो प्रशासन और पुलिस अमला होटल पहुंचा और कार्रवाई की है। साथ ही झोलाछाप डॉक्टर के रूम को सील किया गया है।

यह भी पढ़ें…लापरवाही ! कोरोना संक्रमितों का घर पर कर रहे थे इलाज, एसडीएम की समझाइश पर कराया अस्पताल में भर्ती

पुलिस को सूचना मिली थी कि हरियाणा का सोनू शर्मा नामक व्यक्ति जो शहर में पर्चे बांटकर सर्दी, खांसी, बुखार, हाथ-पैर दर्द के मरीजो का इलाज करता है। और पंकतीरा होटल के अपने रूम नम्बर 206 में मरीजों को बुलाता था।जिसके बाद मरीजों से 200 रुपये लेकर 4 पाउडर की बिना लेवल के पैकेट और एक काले रंग का तरल लिक्विड देता था। वहीं आज मीडिया के स्टिंग में शक होने पर उक्त व्यक्ति तो भाग गया, पर रूम में उसका समान और दवाएं जो वो मरीज को देता था वो मिल गयी। इधर होटल के रिकॉर्ड के मुताबित सोनू शर्मा नामक व्यक्ति महीने में 2 बार यहाँ आता था। और लगभग 100 से अधिक लोगो को यह दवाएं देता था और फिर गायब हो जाता था। आज मीडिया की सूचना पर एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी, नायाब तहसीलदार विनय प्रकाश ठाकुर,एसआई एच के शुक्ला,व प्रशासन और पुलिस अमला होटल पहुँचा तो रूम में ताला लगा हुआ था। वहीं होटल संचालक से चाबी मांगने पर एक्स्ट्रा चाबी नहीं होने की बात कही गई। जिसके बाद एसडीएम रघुवंशी द्वारा कमरे को सील कराया गया है। कल प्रातः आयुष डॉक्टर पुरुषोत्तम अहिरवार द्वारा रूम खुलवाकर बाकी सारी दवाएं अपने कब्जे में की जाएगी।

इस मामले में एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी का कहना है कि कोरोना काल से फर्जी डॉक्टरों पर कार्रवाई चल रही हैं। हमें सुचना मिली थी कि हरियाणा से आकर व्यक्ति यहाँ पंकतीरा होटल में मरीजों का उपचार कर नशीली दवाएं देता था। आज सूचना पर हमने एक्शन लिया है। मामला दर्ज करवाकर आगे की कार्रवाई की जाएगी। आयुष डॉक्टर पुरुषोत्तम अहिरवार का कहना है कि लगातार मिल रही शिकायतों पर कार्रवाई हो रही है। मामला गंभीर है। जब्त दवाइयों पर कोई कंपनी का लेवल नही है। सेम्पल की जांच कराई जाएगी रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई होगी।

इटारसी : होटल में फर्जी तरीके से कर रहा था मरीजों का इलाज, पुलिस ने की कार्रवाई

यह भी पढ़ें…ICAI CA exam 2021: अब जुलाई में होगी सीए की यह एग्जाम, जानें कब-कब होगा पेपर