मनावता की मिसाल: मंत्री ने घायलों को देख रोका अपना काफिला, पुलिस को दी सूचना

होशंगाबाद।

 कमलनाथ सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री पटवारी ने अपने अंदाज के लिए हमेशा सुर्खियां में रहते है। कभी बच्चों को खाना खिलाकर तो कभी किसी की मदद के लिए आगे आकर। लेकिन इस बार मंत्री ने मनावता की मिसाल पेश की है।उन्होंने रविवार को दौरे के दौरान दुर्घटना में घायल असहायों को देखकर ना सिर्फ अपना काफिला रुकवाकर बल्कि पुलिस को सूचना दी और घायलों को अस्पताल पहुँचाया। वही ट्रक पर कार्यवाही करने के पुलिस को निर्देश दिए।  

दरअसल ,रविवार को बाबई के पास एक सड़क दुर्घटना में एक महिला की मौके पर ही मौत हो गई। पिपरिया की तरफ से आ रहे एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवारों को पीछे से टक्कर मार दी। जिसके चलते ट्रक के टायर के नीचे सिर आने से बाइक सवार बुधवाड़ा निवासी चंदाबाई मीना की मौके पर ही मौत हो गई। वही अन्य घायल हो गए। मृतक महिला अपने पति के साथ खिड़िया अपने परिजनों से मिलने जा रही थी, उसी दौरान यह घटना हो गई।तभी मडई से भोपाल जा रहे थे जीतू पटवारी ने बाबई के समीप सड़क दुर्घटना घायलों को असहाय देखा और अपना काफिला रुकवाया ।

इसके बाद उन्होंने तुरंत पुलिस को दुर्घटना की सूचना दी लेकिन जब काफी देर तक पुलिस वहां नही पहुंची तो उन्होंने वहां से गुजर रहे वाहन में शव को अस्पताल भेजा और पुलिस को कार्रवाई के निर्देश भी दिए। पुलिस ने मृतक का पीएम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द किया। अज्ञात ट्रक के चालक के विरूद्ध केस दर्ज कर जांच में लिया। मंत्री पटवारी ने पुलिस के समय पर नहीं पहुंचने पर नाराजगी जताई।