अवैध खनन

 

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। पुलिस (police) चौकी सासन के अंतर्गत इन दिनों हर्रहवा, बिलासपुर, सिंगरौली की तीनों नदियों से बालू खनन (sand mining) का कारोबार बिना रोक-टोक जारी है। वही सासन पुलिस कार्रवाई की जगह रेत माफियाओं (sand mafias) को संरक्षण देने में जुटी हुई है। जिसके कारण सासन चौकी क्षेत्र के आसपास होकर बहने वाली नदी नालों के समीप रेत माफिया रोजाना ट्रैक्टर, ट्राॅली के माध्यम से बालू का अवैध खनन व परिवहन बेरोक-टोक करने में लगे हुए हैं।

यह भी पढ़ें… Sex Racket: पुलिस ने 500 का नोट देकर फर्जी ग्राहक भेजा, छापे में कई युवक-युवती गिरफ्तार

वहीं सूत्र कहते है कि शासन चौकी की सह पर अवैध रेत का परिवहन किया जा रहा है, इतना ही नहीं अवैध रेत परिवहन की देखरेख चौकी के दो खास के हाथों में है। जिससे शाम होते ही रेत का परिवहन शुरु हो जाता है। वहीं इस प्रकार रेत माफियाओं के द्वारा रेत का अवैध परिवहन कर उसे अवैध मंडी क्षेत्र के आसपास संचालित हो रहीं बिल्डिंग के मटेरियल सप्लाय हेतु बड़ी दुकानों पर किया जा रहा हैं। माफिया और पुलिस काला कारोबार कर निर्माणाधीन कार्यों में ग्राहकों को मोटी रकम में बेचकर हर रोज राजस्व विभाग को लाखों का चूना लगाते हैं। जहां खनन माफिया प्रतिदिन खुदाई कर नदी नालों को प्रतिदिन क्षति पहुंचा रहे हैं। वही बेपरवाह बालू माफिया अवैध रेत निकाल रहे हैं।

वही इस संबंध में उच्च अधिकारी से बात करने पर बताया गया कि बालू खनन को लेकर तमाम कार्रवाई की जा रही है। फिर भी अगर यह कारोबार चल रहा है तो इन्हें रोकने का जल्द प्रयास किया जाएगा। लेकिन एक तरफ जहाँ मुख्यमंत्री  अवैध कारोबार को जड़ से खत्म करने की बात कह चुके है वहीं जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन लगातार अवैध कारोबारियों पर कार्यवाही के निर्देश दे रहें है।