उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के उज्जैन में जिला अस्पताल में पदस्थ एक डॉक्टर का वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में डॉक्टर को मरीज से रुपए लेते हुए देखा जा सकता है। मरीज के परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर ने ईलाज के बदले 15 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। वहीं अब वीडियो वायरल होने के बाद कलेक्टर आशीष सिंह ने संभागायुक्त आनंद कुमार शर्मा को निलंबन का प्रस्ताव भेजा हैमध्य प्रदेश के उज्जैन में जिला अस्पताल में पदस्थ एक डॉक्टर का वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में डॉक्टर को मरीज से रुपए लेते हुए देखा जा सकता है।।

सेठी नगर निवासी रतनलाल राठौर (59 वर्ष) की 10 अक्टूबर को तबीयत खराब होने पर परिजनों ने उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती करवाया था। उनके फेफड़े में संक्रमण की समस्या थी। इस दौरान जिला अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर अजय निगम ने बुजुर्ग के ईलाज के बदले परिजनों से 15 हजार रुपए रिश्वत की मांग की। बुजुर्ग पिता के ईलाज के लिए बेटे ने डॉक्टर की बात मान ली और उसे रिश्वत के पैसे देने को तैयार हो गया। इस दौरान उसने डॉक्टर का रिश्वत लेते हुए वीडियो बना लिया और 14 अक्टूबर को एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी को डॉक्टर की शिकायत कर दी। इसके बाद जांच की गई। जांच में वीडियो सही पाया गया। मरीज के बेटे का कहना है कि उसने दो बार तीन-तीन हजार रुपये डॉक्टर निगम को दे भी दिए हैं। जिला अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर का वीडियो सामने आने के बाद अब कलेक्टर आशीष सिंह ने डॉ. निगम को निलंबित करने के लिए प्रस्ताव संभागायुक्त आनंद शर्मा के पास भेजा है। प्रस्ताव मंजूर होने के बाद डॉक्टर के खिलाफ कढ़ी कार्रवाई होगी।