Indore News: कोरोना की आड़ में सड़कों पर निगम की पीली गैंग, निगम को शर्मसार करने वाला वीडियो आया सामने

इंदैर (indore) निगम की पीली गैंग और गैंग के कर्मचारियों के जबरन वसूली और मास्क के नाम पर लोगों को धमकाने के वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं।

indore

इंदौर, आकाश धौलपुरे। इंदौर (indore) में अपनी हरकतों से लोगों की नाक में दम करने वाली नगर निगम (municipal corporation) की पीली गैंग के काले कारनामे एक बार फिर सोशल मीडिया (social media) पर उजागर हुए हैं। दरअसल, कभी किसी मासूम का ठेला पलटाकर तो कभी बुजुर्ग भिक्षुओं को शहर निकाला करने का प्रयास कर देने वाली निगम की पीली गैंग एक बार फिर चर्चा में है। निगम की पीली गैंग के दो ताजा वीडियो दो अलग अलग कहानी तो बयां कर ही रहे है साथ ही निगम के कर्मचारियों के दुस्साहसी व्यवहार को भी सामने ला रहे है। वहीं निगमायुक्त प्रतिभा पाल सहित जिम्मेदार अधिकारियों की चुप्पी कई सवालों को जन्म दे रही है।

निगम की पीली गैंग और गैंग के कर्मचारियों के जबरन वसूली और मास्क के नाम पर लोगों को धमकाने के वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं। रंग पंचमी के दिन जो वीडियो सामने आए है वो बेवजह टैक्स थोपने वाले अधिकारियों पर सवाल उठाने के लिए काफी है। वीडियो में निगम की पीली गैंग की हाथापाई से लेकर लोगों को धमकाने जैसी हरकत सामने आ रही है। निगमकर्मी खुलकर दादागिरी कर रहे है और किसी से भी नहीं डरने की बात कर रहे है।

यह भी पढ़ें… घूस लेते पंचायत सचिव का VIDEO वायरल, CEO-APO सहित इंजीनियर की हिस्सेदारी की कही बात

रंगपंचमी पर वायरल वीडियो का पहला मामला पाटनीपुरा से एलआईजी चौराहा के बीच का है। जहां पर अपने परिवार के साथ जा रहे युवक को निगमकर्मी पहले तो रोकते हैं और महिला द्वारा हाथ जोड़कर विनती करने पर भी नहीं मानते हैं और सीधे थाने में ले जाने की बात करते हुए दिखाई देते हैं। वायरल वीडियो में साफ दिख रहा था कि निगम कर्मी अभद्रता करते हुए दिखाई दे रहे है। वही रंगपंचमी पर वायरल दूसरे वीडियो में नगर निगम के जोन पर एक दुकान संचालक, इस बात की जानकारी लेने पहुंचा था कि उसका चालान तो बना दिया गया लेकिन उस चालान पर न तो निगम के अधिकारी के हस्ताक्षर है और ना ही निगम की कोई सील या मुहर। युवक अपने मोबाइल का वीडियो कैमरा चालू कर अंदर पहुंचा तो वहां निगम के कर्मचारी बिना मास्क के बैठकर बातें कर रहे थे। इस दौरान युवक ने अपनी शिकायत बताई और ये भी कहा कि जब आप चालान के दौरान वीडियो बनाते है तो हम क्यो नही। इसके बाद निगमकर्मियों ने दुकान संचालक से अभद्रता शुरू कर दी और फिर उसका मोबाइल भी छीन लिया।

फिलहाल, दोनो वीडियो में निगम कर्मचारियों की गलती साफ नजर आ रही है लेकिन बिना मास्क वाले कर्मचारियों और युवक को थप्पड़ मारने वाले दोषी कर्मचारियों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। ऐसे में सवाल निगमकर्मियों और निगम प्रशासन पर सवाल उठ रहे है।