स्वच्छता में इंदौर फिर बना नंबर-1, लगातार पांचवी बार मारी बाजी, इसबर मिलेंगे 3 पुरस्कार

इंदौर लगातार पांचवीं बार देश का सबसे स्वच्छ शहर बना है। कल इसकी औपचारिक घोषणा होगी। सफाई में नंबर वन का पुरस्कार इंदौर को मिलेगा। फाइव स्टार केटगरी अवार्ड सहित कुल तीन पुरस्कार इंदौर को मिलेंगे।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर (Indore) अब देश की स्वच्छता (cleanest city) की राजधानी बनती जा रही है। दरअसल, देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर एक बार फिर नम्बर 1 बनकर सिरमौर रहेगा। बता दें, 20 नवंबर को स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के परिणाम भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मौजूदगी में घोषित होंगे और इसी दौरान विजेता शहरों को अवार्ड भी दिए जाएंगे।

स्वच्छता में इंदौर फिर बना नंबर-1, लगातार पांचवी बार मारी बाजी, इसबर मिलेंगे 3 पुरस्कार

ये भी देखें- VIDEO: अब दिग्विजय सिंह ने की किसानों को लेकर पीएम मोदी से यह बड़ी मांग

रिपोर्ट्स के मुताबिक इंदौर स्वच्छता का पंच लगाने को तैयार है और पहली बार घोषित सफाई मित्र अवार्ड भी इंदौर नगर निगम ने जीता है। दिल्ली में होने वाली अवार्ड सेरेमनी के दौरान इंदौर निगमायुक्त प्रतिभा पाल, निगम प्रशासक डॉ. पवन कुमार शर्मा और जिला कलेक्टर व इंदौर को नम्बर 1 बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले मनीष सिंह भी दिल्ली पहुंच चुके हैं। वहीं आज शाम सांसद शंकर लालवानी और विभागीय मंत्री सहित अन्य अधिकारी दिल्ली पहुंचेंगे।

स्वच्छता में इंदौर फिर बना नंबर-1, लगातार पांचवी बार मारी बाजी, इसबर मिलेंगे 3 पुरस्कार

बता दें कि इंदौर ने स्वच्छता में अब तक चौका लगाया और अब पांचवा मौका होगा जब इंदौर नम्बर 1 पर काबिज होगा। अवार्ड सेरेमनी का सीधा प्रसारण देखने के लिए इंदौर के 10 अलग-अलग स्थानों पर लाइव टेलीकास्ट होगा जहां सफाई मित्रों का सम्मान भी किया जाएगा। इससे शहर के नागरिक भी इस आयोजन से जुड़कर देख सकेंगे। जिन स्थानों पर लाइव टेलीकास्ट होगा उन स्थानों पर प्रतीक स्वरूप सफाई कर्मियों का सम्मान समारोह भी आयोजित किया जाएगा। अवॉर्ड सेरिमनी का सीधा प्रसारण राजबाड़ा, रणजीत हनुमान मंदिर, पलासिया, सेल्फी पाइंट, मेघदूतगार्डन, विजय नगर, राजेंद्र नगर, नगर निगम मुख्यालय, खजराना गणेश मंदिर, मूसाखेड़ी चौराहा, मरीमाता चौराहा और कालानी नगर पर होगा। हालांकि आधिकारिक तौर पर इंदौर के नम्बर वन होने की घोषणा कल होगी लेकिन इसके पहले ही मीडिया रिपोर्ट्स ने इंदौर के नागरिकों को झूमने का अवसर दे दिया है।