खाद्य एवं औषधि विभाग की छापामार कार्रवाई, 1 करोड़ से ज्यादा की चायपत्ती सहित अन्य माल जब्त

विभाग ने गोदाम में स्टॉक की गई 1 करोड़ 25 लाख रुपए मूल्य की चाय पत्ती और डिटर्जेंट पाउडर सहित अन्य सामग्री को विक्रय के लिए प्रतिबंध लगा दिया है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में मिलावटखोरों पर इन दिनों खाद्य एवं औषधि विभाग (Food and Drugs Department) नकेल कसते जा रहा है। हाल ही में घी कंपनियों पर की गई कार्रवाई के बाद अब विभाग ने एक बड़ी छापेमारी कर एक करोड़ रुपये की चायपत्ती सहित अन्य माल जब्त किया है।

खाद्य एवं औषधि विभाग की छापामार कार्रवाई, 1 करोड़ से ज्यादा की चायपत्ती सहित अन्य माल जब्त खाद्य एवं औषधि विभाग की छापामार कार्रवाई, 1 करोड़ से ज्यादा की चायपत्ती सहित अन्य माल जब्त

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश के कर्मचारियों को जल्द मिलेगी गुड न्यूज, डीए बढोतरी से सैलरी में होगा इजाफा

दरअसल, सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा जारी निर्देश के मुताबिक मिलावटखोरों पर खाद्य विभाग कार्रवाइयों को अंजाम दे रहा है। इसी के चलते इंदौर के एस आर कंपाउंड स्थित लक्ष्मी वेयर हाउस में अमर टी प्राइवेट लिमिटेड के गोदाम पर छापामार कार्रवाई की। विभाग को मौके क्रय विक्रय नियमों की शर्तों का उल्लंघन का मामला प्रारम्भिक पड़ताल में पता चला साथ ही टी कम्पनी द्वारा बिना लायसेंस के बड़ी मात्रा में चाय पत्ती का भंडारण कर विक्रय किया जा रहा था लिहाजा। विभाग ने गोदाम में स्टॉक की गई 1 करोड़ 25 लाख रुपए मूल्य की चाय पत्ती और डिटर्जेंट पाउडर सहित अन्य सामग्री को विक्रय के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। इसके अलावा विभाग ने चाय पत्ती के 8 सैंपल जब्त कर जांच के लिए भोपाल भेजा है।

बताया जा रहा है कि टी कंपनी के संचालक बगैर लायसेंस के कई वर्षों से चाय पत्ती विक्रय का काम कर रहा था। खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजू सोलंकी के मुताबिक जांच के लिए भेजे गए सैम्पल में कोई कमी आई तो टी कंपनी पर खाद्य सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।