Indore News: पुलिस ने सुरक्षा गार्ड के हत्यारों को किया गिरफ्तार, अंधे कत्ल के पीछे एक तरफा प्यार की कहानी

प्रेम संबंध (love affair) के चलते मृतक की पत्नी के प्रेमी ने अपने एक साथी के साथ हत्या को अंजाम दिया था।

indore, murder case

इंदौर, आकाश धौलपुरे। इंदौर (indore) के तिलक नगर थाना क्षेत्र में पिछले दिनों हुई गार्ड (guard) की हत्या (murder) का खुलासा करते हुए पुलिस (police) ने आरोपी को गिरफ्तार (arrest) कर लिया है। प्रेम संबंध (love affair) के चलते मृतक की पत्नी के प्रेमी ने अपने एक साथी के साथ हत्या को अंजाम दिया था। दरअसल पिछले दिनों पुलिस को सूचना मिली थी कि तिलक नगर थाना क्षेत्र के पिपलियाहाना चौराहे पर गार्ड की रक्तरंजित लाश मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब जांच की तो यह बात सामने आई कि युवक की हत्या धारदार हथियार (sharp tool) से की गई है जिसमें मृतक की शिनाख्त राम जी शुक्ला के रूप में हुई थी जो एक बैटरी की कंपनी में गार्ड के रूप में काम करता था।

पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को विवेचना में लिया था जिसमें लगातार पुलिस हत्यारे को खोजने में लगी हुई थी। अलग-अलग पहलू पर जांच की गई तो यह बात सामने आई कि मृतक की पत्नी का एक दोस्त आशीष विश्वकर्मा है जो घटना के बाद से ही नहीं दिखा है। जो मृतक के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हुआ था। मुखबिर की सूचना पर आशीष को पकड़ा गया और थाने लाकर उससे पूछताछ की गई। आशीष विश्वकर्मा के मोबाइल फोन की व्हाट्सएप चेटिंग, कॉल डिटेल का अवलोकन किया गया तो यह बात सामने आई कि आशीष विश्वकर्मा ही मृतक रामजी शुक्ला की पत्नी से घंटों बात करता था। जिसमें कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने एक तरफा प्रेम के चलते रामजी शुक्ला को मौत के घाट उतारने की बात कबूली। इसमें उसका एक अन्य साथी अभिषेक पांडेय भी शामिल था।

यह भी पढ़ें… JAH पहुंचे प्रद्युम्न सिंह तोमर को दिखी गंदगी, कचरा डालने के लिए ढूंढते रहे डस्टबिन

इस पूरी घटना में दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसपी आशुतोष बागरी ने बताया कि आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि पहले दोनों ने घटना के पूर्व एक कलाली पर बैठकर जमकर शराब पी थी। वहीं से पैदल पैदल लुमिनस बैटरी के गोडाउन पर पहुंचे जहां पर रामजी शुक्ला गेट पर ड्यूटी कर रहा था। वहीं पर अभिषेक ने चाकू निकालकर रामजी शुक्ला पर हमला कर दिया। वहीं मृतक सीढ़ियों से भाग कर पहली मंजिल पर पहुंच गया जिसके बाद आरोपी भी पीछे-पीछे पहुंचे और घेरकर उसके गले व पेट में लगातार वार करते रहे जब तक वह मर नहीं गया।