ओंकारेश्वर की नर्मदा नदी में डूबने से इंदौर के छात्र की मौत, परिवार के डर से भाग आए दोस्त

इंदौर (Indore) के कुछ दोस्त एक साथ ओंकारेश्वर घूमने के लिए गए थे। ऐसे में ब्रह्मपुरी घाट पर नहाते वक्त एक दोस्त नर्मदा नदी में डूब गया। जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। वहीं दूसरे दोस्त तैर कर बाहर आ गए।

indore

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर (Indore) के एक छात्र की ओंकारेश्वर की नर्मदा नदी में डूबने से मौत होने की खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि कुछ दोस्त ओंकारेश्वर घूमने के लिए गए थे। ऐसे में ब्रह्मपुरी घाट पर नहाते वक्त एक दोस्त नर्मदा नदी में डूब गया। जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। वहीं दूसरे दोस्त तैर कर बाहर आ गए। इस मामले को लेकर पुलिस जांच में जुट गई वहीं पुलिस का इस मामले को लेकर मानवीय चेहरा देखने को मिला है क्योंकि पुलिस ने परिवार की मदद करते हुए अंतिम संस्कार की पूरी व्यवस्था की। ये व्यवस्था मांधाता के थाना प्रभारी द्वारा की गई।

जानकारी के मुताबिक, जिस युवक की मौत हुई है वो सीहोर जिले के बुधनी के करीब देवगांव का रहने वाला था। उसकी उम्र 19 साल थी। उसका नाम कैलाश मालवीय था। वह इंदौर के एग्रीकल्चर कॉलेज में पढ़ाई करता था। लेकिन 28 अक्टूबर के दिन वह अपने कुछ दोस्तों के साथ ओंकारेश्वर घूमने के लिए गया। ये सभी बाइक से गए थे। यहां नर्मदा नदी में नहाने के लिए दो दोस्त साथ में उतरे ऐसे में एक डूबने लगा तो दूसरा तैर कर बाहर आ गया।

Must Read : Ujjain : महाराष्ट्र के युवक की भांग खाने से मौत, अब तक 40 हो चुके बीमार, पुलिस करवाएगी ठेका निरस्त

ऐसे में योगेश नहाते वक्त गहरे पानी में चला गए जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। दोनों को बचाने के लिए तीसरे दोस्त ने लोगों से मदद भी मांगी लेकिन तब कोई मौजूद नहीं था। ऐसे में योगेश डूब गया और रवि नदी से बाहर आ गया जिसके बाद बचे हुए दोस्त डर के मारे इंदौर भाग कर लौट आए। ऐसे में इन दोस्तों ने अपने साथ के ओर भी दोस्तों को घटना बताई। जिसके बाद अगले दिन कुछ और दोस्त वहां पहुंचे।

इसके बाद रवि ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी। लेकिन उसने क्या हुआ उस बात को छुपाने की कोशिश की और पुलिस को बताया कि योगेश के फ़ोन से कॉल आया था कि वह डूब गया है। लेकिन पुलिस को इस बात पर शक हुआ तो पुलिस ने एक अन्य युवक से पूछताछ की और फिर इस मामले हकीकत से रुबरू करवाया। दोस्त ने बताया कि वह साथ में घूमने के लिए आए थे। रवि और योगेश नहाने के लिए उतरे थे। लेकिन योगेश डूब गया।

वह सब इसके बाद डर गए थे इसलिए इसकी जानकारी किसी को भी नहीं दी। इसके बाद पुलिस ने युवक की तलाश शुरू की जिसके बाद तीसरे दिन युवक को ढूंढ़ने में पुलिस सफल रही। पुलिस ने शव की हालत देखी तो बताया कि शव पानी में रहने की वजह से पूरा गल गया था। जिसके बाद पुलिस ने वहीं पर अंतिम संस्कार करने का मन बनाया। और पुलिस ने इसके लिए परिवार की मदद की। पुलिस ने अंतिम संस्कार को लेकर व्यवस्था करवाई। ऐसे में थाने के अन्य पुलिसकर्मी भी इसके लिए जुट गए थे।