इंदौर में पुलिस के हत्थे चढ़े 3 चेन स्नैचर्स, रिटायर्ड जज ने तारीफ कर कही यह बात

तीनो बदमाशों से पुलिस पूछताछ जारी है और उम्मीद की जा रही है और भी कई खुलासे अभी होना बाकी है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में महज 72 घंटे के भीतर ही हथियारों के दम पर चैन लूट की वारदात को अंजाम देने वाले 3 चेन स्नैचर्स (chain snatchers) को पुलिस के साझा प्रयासों की बदौलत गिरफ्तार कर लिया गया है। इस पूरे मामले से जुड़ी एक घटना से फरियादी रिटायर्ड जज (retired judge) की पत्नि थी। जो द्वारकापुरी थाना क्षेत्र में स्थित अपने निवास से गुरुवार को फिजियोथैरेपी के अन्नपूर्णा रोड़ क्षेत्र के चाणक्यपुरी रोड़ से गुजर रही थी। इसी दौरान बदमाशों ने उनके गले से चेन झपट ली थी। जिसके बाद शिकायत द्वारकापुरी थाने पर की गई थी।

यह भी पढ़ें…पहले इंस्टाग्राम पर दोस्ती, फिर रेप, युवती की शादी के बाद की यह हरकत, गिरफ्तार

इसी बीच शनिवार को इंदौर की भंवरकुंआ पुलिस ने पालदा क्षेत्र से वाहन पेट्रोलिंग के दौरान एक बाइक पर सवार तीन बदमाशों को संदिग्ध हालातो में घूमते पाया। पुलिस के द्वारा पीछा करने पर बदमाश भागने की कोशिश करने लगे थे लेकिन सीएसपी और टीआई स्तर के अधिकारियों ने उन्हें गिरफ्त में ले लिया। पुलिस ने जब थाने ले जाकर बदमाशों से पूछताछ की तो उन्होंने कई चौंकाने वाले खुलासे किए। पुलिस ने बदमाशों के पास से 2 चेन बरामद की। वहीं उनके पास रखी पिस्टल और चाकू भी जब्त कर लिया। पूछताछ के दौरान बदमाशों ने अपने नाम राहुल, करण और जीतू निवासी बाणगंगा बताया और माना कि उन्होंने 4 स्थानों पर चेन लूट की वारदात को अंजाम दिया था।

इधर, भंवरकुआं पुलिस की गिरफ्त में आये राहुल, करण और जीतू ने बताया कि उन्होंने अन्नपूर्णा, जूनि इंदौर, सयोगितागंज क्षेत्रों में चेन लूट की वारदात को अंजाम दिया था। वहीं रिटायर्ड जज लक्ष्मीकांत भार्गव ने पुलिस द्वारा निभाई गई ड्यूटी पर खुशी जताते हुए कहा कि पुलिस का मनोबल बढ़ाने के लिए उन्हें पुरस्कृत करना चाहिए और जिस तरह से पुलिस ने उनके केस में कार्रवाई की है वो तारीफ ले योग्य है।

इधर, थाना प्रभारी गोपाल परमार ने बताया कि सीसीटीवी कैमरो से मिलने वाले साक्ष्य बेहद कारगर होते है। पुलिस प्रशासन और निगम द्वारा अलग अलग चौराहो और सड़कों पर कैमरे लगवाती है लेकिन आम जनता से अपील है कि वो अपने घरों के बाहर 2 सीसीटीवी कैमरे जरूर लगवाएं ताकि अपराधियों तक पहुंच पाना आसान हो।

फिलहाल, तीनो बदमाशों से पुलिस पूछताछ जारी है और उम्मीद की जा रही है और भी कई खुलासे अभी होना बाकी है।

यह भी पढ़ें… जबलपुर में कूलर चलाने पर रोक, आखिर क्या है कारण !