इंदौर से 48 कोरोना सैंपल जांच के लिए गए, प्रशासन मुहैया कराएगा टेलीमेडिसिन सुविधा

इंदौर/आकाश धौलपुरे

इंदौर से अब तक कोरोना के 84 सैंपल जांच के लिये भेजे जा चुके हैं जिनमें से 78 की रिपोर्ट आ चुकी है और उनमें 13 कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रवीण जड़िया ने बताया कि इंदौर में अभी तक कोरोना से एक मृत्यु हुई है और 13 पॉजिटिव पेशेंट है। वहीं शुक्रवार को इंदौर जिले सहित आसपास के क्षेत्रों के 48 संदिग्ध लोगों की जांच के सेंपल एमजीएम मेडिकल कॉलेज में दिए हैं जिसकी रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

उन्होने कहा कलेक्टर के आदेश पर एक निजी अस्पताल को कोरोना पेशेंट के लिए अधिकृत किया गया है और जल्द ही वहां मरीजों को उपचार उपलब्ध करवाया जाएगा। डॉ जड़िया ने इंदौर वासियों से यही अपील की कि वह अपने घरों में रहे और सुरक्षित रहें।

टेलीमेडिसिन सुविधा से घर बैठे होगा इलाज,  मेडिकल मोबाइल यूनिट घर जाकर करेगी जांच

कोरोना के कारण लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग अर्थात सामाजिक दूरी बनाने को कहा जा रहा है, ऐसे में जिला प्रशासन ने इंदौर में टेलीमेडिसिन सुविधा की शुरुआत की है। इसके अंतर्गत 74892 44895 नंबर पर व्हाट्सएप वॉइस कॉल अथवा वीडियो कॉल के द्वारा एक्सपर्ट चिकित्सकों से परामर्श लिया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि, कोरोना के चलते लोगों के मन में भय की स्थिति भी है। तथा सामान्य सर्दी खांसी होने पर भी लोगों को तो कोरोना का भय सता रहा है। इस स्थिति से निपटने के लिए टेलीमेडिसिन सुविधा द्वारा व्यक्तियों की सर्दी, खांसी, जुकाम आदि के लक्षण देखकर आवश्यक परामर्श दिया जा सकेगा। ऐसी स्थिति जहां व्यक्ति को समक्ष में परामर्श आवश्यक है वहां मेडिकल मोबाइल यूनिट द्वारा संबंधित के घर पहुंच कर भी सेवा उपलब्ध कराई जाएगी। जिला प्रशासन ने बताया इस सुविधा का मुख्य उद्देश्य लोगों को घर में रहने के लिए प्रेरित करना तथा सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना है।