BJP नेता का बड़ा बयान-जम्मू कश्मीर से हटाई जाएगी धारा 370

A-big-statement-of-BJP-leader-Article-370-will-be-removed-from-Jammu-and-Kashmir

इंदौर।आकाश धौलपुरे। 

370  धारा हटाए जाने को लेकर बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा बयान सामने आया है।  विजयवर्गीय ने कहा है कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाई जाएगी  पंडित जवाहर लाल नेहरू ने ये धारा लगाई थी, लेकिन अब केन्द्र की बीजेपी सरकार इसे हटाएगी।विजयवर्गीय ने कहा कि जब भी राजनीतिक अनुकूलता होगी धारा 370 को हटा दिया जाएगा। । यह कोई पहला मौका नहीं है जब बीजेपी नेता ने जम्‍मू-कश्‍मीर को लेकर बयान दिया है। इससे पहले भी वह इस बाबत बयान दे चुके हैं।

         दरअसल, कैलाश आज भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 66 वीं पुण्यतिथि पर विजयनगर चौराहे पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे थे। इस दौरान मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने यह बात कही । कैलाश ने कहा कि  श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जम्मू कश्मीर में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी। श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने कहा था कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाई जानी चाहिए। ये अलगाववादी धारा है। पंडित जवाहर लाल नेहरू ने ये धारा लगाई थी, लेकिन अब केन्द्र की बीजेपी सरकार इसे हटाएगी।  हमारा वचन है जब भी राजनीतिक अनुकूलता होगी, हम कर देंगे। 

नीमच जेल ब्रेक पर भी बोला हमला

इसके अलावा कैलाश विजयवर्गीय ने नीमच जेल से फरार हुए 4 कैदियों के मामले में कमलनाथ सरकार पर तंज करते हुए कहा कि इस सरकार में कुछ भी हो सकता है क्योंकि यहां पद बेचे जा रहे हैं।इसके साथ ही कैलाश ने बड़वानी जिले में नर्मदा किनारे अवैध रेत के उत्खनन के दौरान 5 मजदूरों की मौत के मामले को लेकर कहा कि पूरे प्रदेश में अवैध उत्खनन चल रहा है। मध्य प्रदेश की सरकार कॉन्ट्रेक्ट की सरकार है। सभी मंत्रियो को खनन का कांट्रेक्ट दे दिया है। सभी पैसा कमा रहे, जनता की चिंता किसी को नहीं है।

ममता पर बोला हमला

वही विजयवर्गीय ने ममता बैनर्जी पर निशाते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती बना रही है यह खुशी की बात है लेकिन ममता बनर्जी को श्यामा प्रसाद मुखर्जी के विचारों को भी आत्मसात करने की जरूरत है। ममता ने पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं को मारने का काम किया है।।

क्या है धारा 370

भारतीय संविधान की धारा 370 जम्मू-कश्मीर राज्य को विशेष दर्जा प्रदान करती है। धारा 370 भारतीय संविधान का एक विशेष अनुच्छेद यानी धारा है, जो जम्मू-कश्मीर को भारत में अन्य राज्यों के मुकाबले विशेष अधिकार प्रदान करती है। भारतीय संविधान में अस्थायी, संक्रमणकालीन और विशेष उपबन्ध सम्बन्धी भाग 21 का अनुच्छेद 370 जवाहरलाल नेहरू के विशेष हस्तक्षेप से तैयार किया गया था।