फर्जी ऐप से हजारों की ठगी करने वाली युवती पकड़ाई, मॉल और दुकानों से की जमकर शॉपिंग

इंदौर, आकाश धोलपुरे। वो ठगी करती थी फर्जी मोबाइल ऐप से। उसने हजारों रुपये की खरीदी कर दुकानदारों को चूना लगाया और मीडिया में खबर सामने आने के भी ठगी की वारदात करती रही। इंदौर की ये शातिर ठग पेटीएम का फर्जी ऐप इस्तेमाल कर लोगो को बेवकूफ बनाती थी।

दरअसल, यहां किसी की तारीफों के कसीदे नही गढ़े जा रहे है बल्कि बात की जा रही है एक ऐसी ठग चोरनी की जो हाईप्रोफाइल शोरूम्स और दुकानों से कपड़े, जूते खरीदकर भुगतान के नाम पर पेटीएम के फर्जी ऐप से पेमेंट करती थी। इस लड़की के झांसे में कई दुकानदार आ चुके थे, और मामला बढ़ने के बाद दुकानदारों ने पुलिस की शरण ली। इस बाद युवती को तुकोगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी युवती की आदत में ये बात शुमार थी कि वो दुकानों से जमकर खरीदारी करती और बाकायदा दुकान वालों को फर्जी पेटीएम ऐप के जरिये भुगतान भी करती थी। इस फर्जी ऐप के सहारे दुकान वालों को समझाने में भी कामयाब रहती थी कि खरीदी गई वस्तुओं का भुगतान हो गया है, लेकिन बाद में जब दुकानदार हिसाब लगाते थे तो बस उसी युवती के बिल के रुपये टोटल में कम मिलते थे।

युवती द्वारा की जाने वाली धोखधड़ी की वारदात सीसीटीवी कैमरों में कैद हो चुकी थी। यहां तक की मीडिया में भी खबर आ गई थी। बावजूद इसके यह युवती ठगी करती रही और कई दुकानदारों को हज़ारों रुपयों का चूना लगा दिया। तुकोगंज थाने में मिली शिकायत के बाद थाना प्रभारी कमलेश शर्मा ने एक टीम को युवती की तलाश में लगा दिया और बाद में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर युवती की तलाश में पुलिस जुट गई। सीसीटीवी फुटेज में युवती की गाड़ी का नम्बर पता चला जिसके आधार पर युवती का पता चल गया और आज उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

तुकोगंज थाना प्रभारी कमलेश शर्मा के मुताबिक़ युवती उनके थाना क्षेत्र के अलावा अन्य थाना क्षेत्रों में भी ठगी की वारदात को अंजाम दिया था जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। फिलहाल, इंदौर की इस वारदात के सामने आने के बाद अब हर कोई सावधान हो गया है और कोड स्केन के भुगतान को जांच रहा है ताकि कोई फर्जी ऐप से उनके साथ ठगी न कर सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here