केला बना डेढ़ साल की मासूम की मौत की वजह, घटना से परिवार सदमें में

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर में केला खाने के बाद एक मासूम की मौत का मामले सामनें आया है। इंदौर की स्कीम नं. 78 में रहने वाले एक परिवार की डेढ़ साल की बच्ची ने दो दिन पहले केला खाया तो उसकी तबीयत बिगड़ गई। जिसे लेकर परिजन फौरन डॉक्टर के पास पहुंचे, इलाज के बाद वह ठीक हो गई, लेकिन फिर दो दिन बाद बच्ची ने केला खाया तो उसकी फिर तबियत खराब हो गई, परिजन उसे तुरंत अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया। हालांकि पुलिस ने मौत के कारण की जांच के लिए पोस्टमॉर्टम कराया है। लसूड़िया पुलिस की मानें तो दिलरीत कौर पिता गुलराजसिंह की तबीयत बिगड़ने पर परिवार निजी अस्पताल ले गया, जहां जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया।

कांग्रेस ने किया उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम का ऐलान..

मृतक बच्ची के पिता गुलराज सिंह के मुताबिक, 2 अक्टूबर की शाम को बच्ची ने दो केले खाए तो उसकी तबीयत बिगड़ गई। तुरंत पास में डॉक्टर के पास पहुंचे तो उन्होंने दवा दे दी। दवा लेने के बाद बच्ची ठीक हो गई। सुबह फिर उसके तीन साल के भाई गुरुसेवक सिंह उसे ने केला दिया तो बच्ची ने खा लिया। बच्ची ने एक साथ पूरा केला मुंह में लिया तो सांस अटक गई। उन्होंने तुरंत केला निकाला और बच्ची को स्कीम नं. 78 के अस्पताल ले गए।

एसडीएम के रीडर को रिश्वत लेते लोकायुक्त ने रंगे हाथों पकड़ा, आरोपी ने जमकर किया विवाद

वहां डॉक्टरों ने बड़े अस्पताल ले जाने के लिए कहा तो दूसरे अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बच्ची के सिर व शरीर में कुछ चोट के निशान थे, जिस पर पुलिस को सूचना दी तो पुलिस ने 4 अक्टूबर को पोस्टमॉर्टम कराया। चोट के निशान के बारे में परिजनों ने पुलिस को बताया कि बड़े भाई ने करीब 15 दिन पहले काट लिया था, फिलह पुलिस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने का इंतजार कर रही जिसके बाद मौत का कारण साफ हो सकेगा।