MP: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के जीवित रहते भाजपा पार्षद ने दे दी श्रद्धांजलि

BJP-Parhad-tribute-to-arun-jailty-before-his-demises--

इंदौरआकाश धौलपुरे।

सोशल मीडिया पर मशहूर हस्तियों के बीमार होने पर उनके निधन की अफवाह बहुत तेज़ी से फैलाई जाने का ट्रेंड बन गया है। इस अफवाह की चपेट में कई लोग आ जाते है। बिना जांच किए और जानकारी लिए ऐसी अफवाहों पर भरोसा करने वालों में आम लोगों के अलावा नेता भी एसी फर्जी खबरों के शिकार होने लगे हैं। हाल ही में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबीयत खराब होने की खबर सामने आई थी। वह एम्स में भर्ती हैं। इस दौरान उनके निधन की फर्जी खबर सुनकर इंदौर की अतिउत्साही महिला पार्षद ने उन्हें श्रदांजलि तक दे डाली।

दरअसल, पूर्व वित्त मंत्री जेटली को बेचैनी की शिकायत होने के बाद शुक्रवार को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती करवाया गया है। वे एम्स के कार्डियो न्यूरो सेंटर में हैं। डॉक्टरों की एक टीम उनका इलाज कर रही है। उनसे मिलने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू सहित कई दिग्गज नेता पहुंच रहे हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर उनके निधन की फर्जी खबर वायरल हो गई। जिसके बाद कई लोग इस फर्जी पोस्ट की चपेट में आ गए। खास बात यह है कि इस पोस्ट को जिस आईडी से वायरल किया गया वह बीजेपी के आईटी सेल की बताई जा रही है। प्रोफाइल पर फोटो भी पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की लगी है। वहीं, अतिउत्साह में ऐसी ही एक फेक न्यूज को देख-सुनकर वार्ड 29 की भाजपा पार्षद पूजा पाटीदार ने बिना जांच पड़ताल किए तुरंत फेसबूक पर भावपूर्ण श्रद्धांजलि प्रेषित कर दी। पाटीदार ने जेटली के पोस्टर पर अपना फोटो चस्पा करते हुए भावपूर्ण श्रद्धांजलि हेडिंग देते हुए लिखा कि, पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटलीजी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।

सच मालूम होने पर हटाई पोस्ट

पार्षद के पोस्ट करने के बाद कई लोगों ने प्रतिक्रिया देते हुए उसे फेक बताया। जब तक पार्षद कुछ समझपाती उनकी पोस्ट वायरल हो चुकी थी। जिसके बाद उन्होंने अपनी पोस्ट फेसबुक से हटा ली।  कुछ नेताओं की निगाह पड़ी तो राऊ मंडल अध्यक्ष नारायण पटेल ने टिप्पणी करते हुए कहा कि एक जिम्मेदार पद पर रहने के बावजूद आप झूठी खबर कैसे डाल सकती हैं, पूजा दीदी। पटेल की पोस्ट पढ़ते ही पाटीदार ने तुरंत अपने फेसबुक एकाउंट से यह पोस्ट डिलीट कर दी।