Indore : मॉडल्स की बोल्ड फोटो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेलिंग, पुलिस ने पुणे से पकड़ा

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मॉडलिंग की दुनिया भले ही चकाचौंध भरी हो लेकिन इसी दुनिया में कुछ ब्लैकमेलर भी सेंध लगा लेते हैं। ऐसे ही एक मामले में सायबर पुलिस ने पुणे से एक शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है। आरोपी फर्जी आईडी से मॉडल्स को लुभावने ऑफर देता था और फिर उनकी बोल्ड तस्वीरें मंगवाकर उससे उन्हें ब्लैकमेल करता था।

MP News : BJP अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला अध्यक्षों की घोषणा

Indore : मॉडल्स की बोल्ड फोटो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेलिंग, पुलिस ने पुणे से पकड़ा

मॉडल युवतियों के बोल्ड फोटो वायरल करने की धमकी देकर पैसों की मांग करने वाले पुणे निवासी विग्नेश शेट्टी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी ने इंदौर की एक मॉडल के साथ फर्जी कंपनी बनाई थी और वो नए युवाओं को अच्छे प्रोजेक्ट में सिलेक्शन का लालच देकर फर्जीवाड़ा करता था। सायबर सेल इंदौर ने खुलासा किया है कि। पुणे में रहकर आरोपी उन युवाओं को टारगेट करता था जो मॉडलिंग में रूचि रखते थे। वो लड़के लड़कियों के इंस्टाग्राम अकाउंट के जरिये उनसे संपर्क करता था और फिर मेल के जरिये उनकी बोल्ड वीडियो और तस्वीरें मंगवाता था। इसके लिए बाकायदा आरोपी ने राइजिंग ब्रांड स्टार्स इनफ्लूएंसर मॉडलिंग के नाम से इंस्टाग्राम पेज भी बना रखा था।

इंदौर की युवती से मिली शिकायत में सायबर सेल को पता चला कि पुणे निवासी विग्नेश शेट्टी नामक आरोपी ने राइजिंग स्टार नामक इंस्टाग्राम आईडी से साल 2020 के फरवरी माह में युवती को जाल में फंसाया और युवती से वर्चुअल रूप से जुड़ गया। युवती को माडलिंग की दुनिया में करियर बनाना था और वो आरोपी ने ऑफर के जाल में उलझ गई। उसे विश्वास में लेकर आरोपी ने कंपनी की ईमेल आईडी पर पोर्टफोलियो मंगवा लिया। वर्ष 2020 में लॉकडाउन के चलते कोई रिस्पांस न मिलने के कारण युवती ऑफर को भूल चुकी थी। इसके बाद साल 2021 जनवरी माह में युवती के इंस्टाग्राम आईडी के मैसेंजर पर एक अज्ञात इंस्टाग्राम आईडी से मैसेज आया कि उसका माडलिंग के लिए सिलेक्शन हो गया है। इस मैसेज के बाद बकायदा युवती से रजिस्ट्रेशन फीस जमा करने के लिए कहा गया। रजिस्ट्रेशन फीस की बात पर युवती को फर्जी आईडी होने का शक हुआ तो उसने राज्य सायबर सेल को संपर्क कर शिकायत की। जिसके सायबर सेल द्वारा जांच शुरू की गई तो पता चला कि फर्जी इंस्टाग्राम आईडी और ईमेल आईडी विग्नेश शेट्टी का है, जो पुणे में रहता है।

इसके बाद जांच के लिए गठित टीम ने आरोपी को इंदौर बुलाया गया जहां सायबर पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी विग्नेश शेट्टी ने अपराध स्वीकार कर लिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर उसका मोबाइल फोन तथा सिम जब्त कर ली है और उस पर विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। शुक्रवार को राज्य सायबर सेल एएसपी सृष्टि भार्गव ने बताया कि आरोपी ने पूछताछ में कबूल किया है कि वह मॉडलिंग के नाम पर लड़के-लड़कियों के पोर्टफोलियो बुलवाकर रजिस्ट्रेशन फीस 500 रुपये जमा करने के लिए कहता था और रुपये जमा करा लेने के बाद वह उस मॉडल के वर्चुअल संपर्क को ब्लॉक कर देता था। इसके बाद वह बोल्ड फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी देकर रुपयों की डिमांड करता था।
फिलहाल, आरोपी जिग्नेश से सायबर पुलिस अन्य मामलों की जानकारी भी जुटा रही है ताकि उस पर कड़ी कार्रवाई की जा सके।