MPPSC पेपर लीक की वायरल चैटिंग को लेकर संयोगितागंज थाने में मामला दर्ज, जांच कर रही पुलिस

सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पेपर जिस एजेंसी के माध्यम से बनाया गया था, वह फिलहाल फर्जी पाया गया है। इस मामले की जांच चल रही है।

Sanjucta Pandit
Published on -

Indore News : इंदौर में शनिवार को MPPSC (मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग) का पेपर लीक होने का मामला सामने आया है। एमपीएससी के एक पदाधिकारी ने इस संबंध में संयोगितागंज थाने में मामला दर्ज करवाया है। यह मामला 420 आईटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया है, जो धोखाधड़ी और साइबर अपराध से संबंधित है। इस खबर ने छात्रों और अधिकारियों के बीच हलचल मचा दी।

जांच जारी

सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पेपर जिस एजेंसी के माध्यम से बनाया गया था, वह फिलहाल फर्जी पाया गया है। इस मामले की जांच चल रही है और जांच पूरी होने के बाद उस एजेंसी पर उचित कार्यवाही की जाएगी। इस घटना ने एमपीएससी की परीक्षाओं की सुरक्षा और पारदर्शिता पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

छात्रों में आक्रोश

वहीं, छात्रों के बीच इस घटना को लेकर काफी आक्रोश है और वे उचित न्याय की मांग कर रहे हैं। पुलिस और एमपीपीएससी के अधिकारी इस मामले की गहराई से जांच कर रहे हैं ताकि दोषियों को जल्द से जल्द पकड़ा जा सके और भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोका जा सके।

इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News