CCTV में कैद डकैतों का हुआ खुलासा, पुलिस की गिरफ्त से 4 आरोपी अभी भी फरार

आरोपियों ने डकैती की वारदात को 5 दिन पहले अंजाम दिया था। घटना CCTV में कैद हो गई थी।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। राजेन्द्र नगर (Rajendra Nagar) थाना क्षेत्र में 5 दिन पहले इंजीनियर (Engineer) के घर हुई डकैती का खुलासा करते हुए पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वहीं 4 आरोपी अभी भी फरार है। जिनकी तलाश में पुलिस जुटी है। पूरी वारदात में टाउनशिप (Township) के एक पुराने नौकर की भूमिका सामने आई है। जिसने अपने ही गांव के साथियों के साथ डकैती की वारदात को 5 दिन पहले अंजाम दिया था।

दरअसल, इंदौर के राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र की ओमेक्स हिल्स (Omexa Hills) में इंजीनियर गौरव त्यागी के घर हुई डकैती का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वहीं 4 आरोपी खोजना पुलिस के लिए चुनौती है। जिस पर पुलिस काम कर रही है। हालांकि, डकैती का खुलासा एक बड़ी चुनौती के समान पुलिस के लिये था। लेकिन, पुलिस ने वारदात के बाद CCTV कैमरों के फुटेज खंगाले और फुटेज से साफ हुआ कि इंजीनियर के घर के कुछ ही दूर निर्माणाधीन इमारत में काम करने वाले नौकर से मिलता-जुलता एक चेहरा फुटेज में नजर आ रहा है। पुलिस उसे बिल्डिंग में पकड़ने गई, तो वह नहीं मिला। इसके बाद पुलिस का शक और गहरा गया। तब पुलिस ने नौकर के घर के पते के बारे में जानकारी निकाली, तो वह धार के बाग टांडा क्षेत्र का निकला। इसके बाद पुलिस जब उस नौकर के गांव पहुंची तो वह घर स भाग चुका था इसलिए पुलिस ने उसके रिश्तेदारों के ठिकानों पर दबिश दी, तो वह गिरफ्त में आ गया।

ये भी पढे़- Suspended: उज्जैन संभाग आयुक्त का एक्शन- लापरवाही पर SDM संजीव साहू निलंबित

पुलिस ने नौकर समेत करीब 5 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की, तो नौकर ने वारदात कबूल कर ली। उसी ने डकैती डालने के लिए गांव जाकर अपने दोस्तों से डकैती डालने को कहा था। पूरी वारदात में 9 आरोपी थे। वारदात से पहले रैकी की गई थी। डकैती के पहले सभी ने पार्टी की और फिर काम में लग गए। हालांकि, बदमाश दिन में ही डकैती के लिए इंदौर आ गए थे। नौकर ने पुलिस को बताया था कि वारदात की साजिश करीब 4 दिन पहले बनाई गई थी। उसने कहा कि जब वह गांव गया था, तो पास के ही गांव के पुराने चोरों से बोला था कि मैं जिस कॉलोनी में काम करता हूं, वहां एक इंजीनियर रहता है और उसके घर में काफी पैसा है। वारदात वाली रात को दिन में ही डकैत इंदौर आ गए थे। जिनके लिए शराब की व्यवस्था नौकर ने की थी। जहां नौकर काम करता था उसी बिल्डिंग में गांव से साथ लाए मुर्गे और शराब पार्टी भी सभी ने की। आरोपियों को लगा कि काफी माल मिलेगा, लेकिन अंदर जाने के बाद माल कम मिला, तो वो व%