गंदगी में बनाई जा रही थी बच्चों की कैंडी और लालीपॉप, खाद्य विभाग ने की कार्रवाई

इंदौर, आकाश धोलपुरे। जिले में खाद्य पदार्थों में मिलावट करने तथा अन्य अनियमितताएं करने वालों के विरूद्ध लगातार सख्त कार्रवाई की जा रही है। कलेक्टर मनीष सिंह के मार्गदर्शन में खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अमले द्वारा मुहिम शुरू की गई है। इसके तहत आज इंदौर के उद्योग नगर पालदा में मांगीलाल कम्पाउण्ड स्थित कन्फेक्शनरी के.एस. इंडस्ट्रीज की आकस्मिक जांच की गई।

जांच में गंदगी में कैंडी और लालीपॉप बनाने के साथ अन्य अनियमितताएं पाई गई, जिसपर विभाग द्वारा कार्रवाई की गई है। इस दौरान बड़ी मात्रा में कैंडी और लालीपॉप जब्त किये गये। अपर कलेक्टर अभय बेड़ेकर ने बताया कि के.एस. इंडस्ट्रीज की मालिक कृष्णा पति अनिल अग्रवाल तथा सिमरन पति विजय सबनानी है। उन्होंने बताया कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अमले द्वारा मुहिम के तहत आज इस कन्फेक्शनरी की जांच की गई। जांच में अनेक अनियमितताएं पाई गई। गंदगी में कैंडी और लालीपॉप बनाना पाया गया। साथ ही लेबलिंग के नियमों का उल्लंघन भी मिला। इसपर कार्रवाई करते हुए खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अमले द्वारा 4 हजार 200 किलो लालीपॉप तथा 5 हजार 600 किलो कैंडी जब्त की गई। अब खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत प्रकरण दर्ज किया जा रहा है।