कॉमेडियन मुन्नवर फ़ारुखी की जमानत पर अटका ये पेंच, कोर्ट में एक सप्ताह बाद सुनवाई की तारीख मुकर्रर

इंदौर, आकाश धोलपुरे।  स्टेंडअप कॉमेडियन मुन्नवर फारुखी और नलिन यादव की जमानत अर्जी पर मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ में शुक्रवार को सुनवाई होनी थी, लेकिन कोर्ट में तुकोगंज थाना पुलिस द्वारा केस डायरी पेश नहीं किये जाने के चलते जमानत याचिका एक सप्ताह तक टाल दी गई है।

दरअसल, कॉमेडियन मुन्नवर फ़ारुखी पर इंदौर के हिंदु रक्षक संगठन द्वारा आरोप लगाए गए थे कि वो हिंदू देवी देवताओं का अपमान कर धार्मिक भावनाएं भड़का रहे हैं। जिसके बाद पुलिस ने मुन्नवर फ़ारुखी सहित अन्य लोगो पर मुकदमा दर्ज कर उन्हें कोर्ट में पेश किया था जहां से सभी को जेल भेज दिया गया था। शुक्रवार को मुन्नवर फ़ारुखी के लिए सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता विवेक तन्खा अपीयर हुए थे लेकिन तुकोगंज पुलिस द्वारा केस डायरी पेश नहीं किये जाने के बाद जमानत पर सुनवाई एक सप्ताह तक टल गई है।

फ़ारुखी के वकील अंशुमन श्रीवास्तव ने बताया कि हमारे द्वारा पूर्व में माननीय उच्च न्यायालय के समक्ष नलिन यादव और मुन्नवर फ़ारुखी के लिए जमानत याचिका प्रस्तुत की गई थी, उस पर आज बहस होनी थी और हमारे पक्षकारों की ओर से सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट विवेक तन्खा उपस्थित हुए थे। चूंकि पुलिस द्वारा प्रकरण से संबंधित केस डायरी आज न्यायालय में पेश नही की जा सकी इस कारण सुनवाई स्थागित हो गई जिसके बाद न्यायालय द्वारा प्रकरण में सुनवाई एक सप्ताह बाद सुनवाई नियत की है। एडवोकेट अंशुमन श्रीवास्तव ने कहा कि मेरा ऐसा मानना है कि पुलिस द्वारा पहले भी पॉलिटिकल प्रेशर के चलते बिना वास्तविक तथ्यों की जांच कर प्रकरण दर्ज किया गया है और जिस मुन्नवर फ़ारुखी ने इंदौर में आकर कॉमेडी शो में परफॉर्म ही नहीं किया और जब उसके द्वारा कोई ऐसी बात ही नहीं की गई जिससे धार्मिक भावनाएं हर्ट होती हो, तो किन आधार पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है ये महत्वपूर्ण विषय है। हमारे द्वारा इन्ही तथ्यों को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाना था लेकिन केस डायरी नही होने के कारण प्रोसिडिंग एक सप्ताह बाद के लिए तय की गई है। फिलहाल, आज मुन्नवर फ़ारुखी और नलिन यादव की जमानत पर सुनवाई एक सप्ताह तक टल गई है और अब उन्हें जमानत के लिए एक सप्ताह तक इंतजार करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here