इंदौर बायपास को लेकर विवाद, जमीन मालिकों ने सरकार पर उठाए सवाल, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

मंगलवार को जमीन मालिकों का एक प्रतिनिधिमंडल इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह (Indore Collector Manish Singh) से मिला और उन्हें ज्ञापन के जरिये अपनी परेशानी से अवगत कराया।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर बायपास (Indore Bypass) को लेकर अब एक बड़ा विवाद गहराने लगा है। दरअसल, पिछले कई दिनों से बायपास के दोनों और जमीन खरीदकर अपना व्यापार-व्यवसाय कर रहे सैंकड़ो जमीन मालिकों ने सरकार की नीयत पर सवाल उठाए है। इसी के चलते मंगलवार को जमीन मालिकों का एक प्रतिनिधिमंडल इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह (Indore Collector Manish Singh) से मिला और उन्हें ज्ञापन के जरिये अपनी परेशानी से अवगत कराया।

यह भी पढ़ें…Jabalpur Accident : पिकअप और बाइक की जोरदार भिड़ंत, 1 की मौत, दो गंभीर घायल

बायपास के आस पास के जमीन मालिकों के मुताबिक इन्दौर बायपास के कंट्रोल एरिया की जमीन के संबंध में कलेक्टर मनीष को बताया कि सरकार व प्रशासन 60 मीटर बायपास के अलावा जो 45-45 मीटर की जमीन कंट्रोल एरिया बताकर जमीन मालिकों से मांग रहे हैं। वह जमीने हमारी मालकी व कब्जे की है। जिसकी बाकायदा गाइडलाइन से रजिस्ट्री करवाई गई है। व उस जमीन का कमर्शियल संपत्ति कर भी जमा करवाया जा रहा है।

इंदौर बायपास को लेकर विवाद, जमीन मालिकों ने सरकार पर उठाए सवाल, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापनइंदौर बायपास को लेकर विवाद, जमीन मालिकों ने सरकार पर उठाए सवाल, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

जमीन मालिकों की ओर से राजकुमार राठौर ने मांग उठाई है। उनकी मांग है कि या तो हमारी जमीन हमारे पास रहने दी जाए या जितनी भी जमीन आपको लेना है, उसका मुआवजा दिया जाए। इधर, इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने जमीन मालिकों की परेशानी जानने कद बाद जॉंच का आश्वासन दिया है और पूरे मामले में न्यायोचित कार्रवाई की बात की है।

यह भी पढ़ें…Bhind: नौकरी के लिए दुबई से अचानक आया कॉल, गाइडलाइंस बनी परेशानी, तो सिंधिया ने ऐसे की बेटी की मदद