कोरोना वायरस: MP का यह स्कूल देशभर में पेश कर रहा मिसाल

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

कोरोना को लेकर देश भले ही सहमा हो और देश का एजुकेशन सिस्टम भी ठप पढ़ गया हो लेकिन इंदौर कोरोना से लड़ाई के बीच एक अनूठा प्रयास कर रहा है। जो देशभर के लिए एक मिसाल कायम करने के लिये काफी है। दरअसल, कोरोना से बचाव के चलते शासकीय स्कूलों सहित निजी स्कूल 31 मार्च तक लॉक डाउन पर है लेकिन इंदौर के एक स्कूल द्वारा बच्चो की पढ़ाई का नुकसान ना हो इसके लिए एक स्कूल द्वारा ऑनलाइन सिस्टम से अध्यापन कार्य प्रारंभ किया गया।

दरअसल, इंदौर के छत्रीबाग क्षेत्र में स्थित ए.बी.एन. स्कूल प्रबंधन ने कोरोना वायरस के चलते शासन द्वारा स्कूलों में 31 मार्च 2020 तक घोषित किये गए अवकाश के दौरान बच्चों की पढ़ाई का नुकसान ना हो इस बात का खयाल रख 21 वीं सदी के डिजिटल युग की तकनीकों का सहारा लिया है।

शिया दाऊदी बोहरा समाज द्वारा संचालित सी.बी.एस.ई.स्कूल ए.बी.एन. स्कूल छत्रीबाग में ऑनलाइन पढ़ाई का सिस्टम प्रारंभ किया गया है। जिसके लिये बकायदा टीचर्स को ट्रेनिंग दी गई है। जिसके बच्चों के ऑनलाइन शिक्षण, गो-टू-मिटिंग, मोबाईल, कम्प्यूटर, टेबलेट आदि के माध्यम से पढ़ाई कराई जा रही है वही गुगल फार्म से बच्चों को होम वर्क भी दिया जा रहा है। टीचर्स द्वारा लेक्चर के माध्यम से विषय के कन्सेप्ट क्लियर कराये जा रहे है।

स्कूल प्रबंधन ने ऑनलाइन एजुकेशन सिस्टम पर बच्चों एवं पालकों को शुभकामनाएँ प्रदान करने के पालको को डिजिटल माध्यम और मोबाइल से सम्पर्क कर जानकारी दी है कि आखिर वे कैसे इस माध्यम से जुड़ पाएंगे। यही नही स्कूल प्रबंधन ना सिर्फ बच्चों की पढ़ाई बल्कि कोरोना को लेकर अवेयरनेस भी पैदा कर रहा है ताकि विपरीत परिस्थितियों में भी ना सिर्फ बच्चे मानसिक रूप से मजबूत हो बल्कि जागरूक भी रहे और अपने परिवार को भी जागरूक कर सके।