प्रदेश के इस शहर के कोविड अस्पतालों में इस तरह सेलिब्रेट किया गया रक्षाबंधन का पर्व, जानिये

इंदौर, आकाश धोलपुरे

रक्षा बंधन के अवसर पर इंदौर में एक अलग नजारा कोविड अस्पतालों में देखने को मिला, यहां रक्षा सूत्र का पर्व धूमधाम से मनाया गया।  यहां बकायदा कोविड वार्ड में जाकर नर्सेस ने न सिर्फ पुरुषो को बल्कि महिलाओ को भी रक्षा सूत्र बांधकर विश्वास दिलाया की वो उनकी रक्षक है और उनकी जान को कोई खतरा नहीं है।

इंदौर के एमआरटीबी अस्पताल में तो हर वार्ड में मरीजो को रक्षा सूत्र बांधा गया वो भी पीपीई किट पहने हुई महिला डॉक्टर्स और नर्सेस ने। इंदौर से आई ये तस्वीरें ये बताने के लिए काफी है कि कोरोना भले ही कितना भयंकर रूप अख्तियार कर ले, लेकिन संक्रमित मरीजों और डॉक्टरों की रक्षा के आगे उसे हारना ही होगा।

इंदौर के महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय से संबद्ध महाराजा तुकोजीराव होलकर चिकित्सालय में आज, रक्षाबंधन के शुभ अवसर पर भर्ती सभी कोरोना संक्रमित मरीजों को रक्षा सूत्र बांधने का आयोजन एक परिवार की भांति किया गया । एमटीएच अस्पताल के अधीक्षक डॉ. सुमित शुक्ला, एमटीएच प्रभारी अनुपमा दवे, डॉ. अर्चना वर्मा, अस्पताल प्रबंधक हेमंत शुक्ला, सपोर्ट सर्विसेज़ टीम ह्यूमन मेट्रिक्स से गिरजा शंकर यादव एवं उनकी टीम ने मिलकर सभी मरीजों को रक्षाबंधन की शुभकामनाएं दी एवं उनकी कलाई सुनी ना रहे इस उद्देश्य हेतु सभी मरीजों को रक्षा सूत्र पहनाया एवं सभी को मिठाई खिलाकर आश्वासन दिया।

उन्होंने कहा कि यह रक्षा सूत्र है एवं हम आपकी रक्षा करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे । डॉक्टर्स एवं अन्य चिकित्सकीय स्टाफ ने रक्षाबंधन के पावन अवसर पर मरीज़ों को जल्द से जल्द स्वास्थ्य करके उनके परिवार से मिलाने का हर संभव प्रयास करने का आश्वासन दिया । एमजीएम की डीन डॉ. ज्योति बिंदल की पहल पर रक्षाबंधन के पावन अवसर पर हुए अनूठे आयोजन के दौरान सभी मे उत्साह देखा गया और देश का यह एकमात्र अस्पताल है जिसमें रक्षाबंधन का त्यौहार बड़े उत्साह के साथ मनाया गया वही मरीजो ने पैर छूकर डॉक्टर्स से आशीर्वाद भी लिया।

प्रदेश के इस शहर के कोविड अस्पतालों में इस तरह सेलिब्रेट किया गया रक्षाबंधन का पर्व, जानिये