इंदौर में क्राइम ब्रांच का राशन माफियाओं पर शिकंजा, 4 लाख से ज्यादा के चावल जब्त

संयुक्त कार्रवाई को अंजाम देकर अवैध रूप से राशन की दुकानो से माल खरीदकर खुले बाजार में बेचने वाले 8 लोगो पर प्रकरण पंजीबद्ध कर दो आरोपियों को आजाद नगर पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। एंटी माफिया अभियान (Anti Mafia Abhiyan ) के तहत इंदौर (Indore) में तेजी से कार्रवाई जारी है। इसी कड़ी में अब राशन माफियाओं (ration mafia) पर भी नकेल कसी जा रही है। गुरुवार को इसी कड़ी में राशन माफिया के खिलाफ क्राइम ब्रांच, खाद्य एवं औषधि विभाग और आजाद नगर पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई को अंजाम देकर अवैध रूप से राशन की दुकानो से माल खरीदकर खुले बाजार में बेचने वाले 8 लोगो पर प्रकरण पंजीबद्ध कर दो आरोपियों को आजाद नगर पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

यह भी पढ़ें…Shivpuri News : मुनीम ले साथ हुई लूट का पुलिस ने 48 घंटे में किया खुलासा, 2 आरोपी गिरफ्तार

दरअसल, क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि राशन माफिया राशन की दुकान से चावल खरीदकर नेमावर रोड़ स्थित राइस मिल में बेचने के लिए पहुंच रहे है। जिसके बाद मामले की जानकारी खाद्य एवं औषधि विभाग और आजाद नगर पुलिस को मिली तो सक्रिय हुए सभी विभागों ने एक साथ छापेमारी के लिए नेमावर रोड़ स्थित जयराम तौल कांटे के सामने स्थित पलक एग्रो इंडस्ट्री राइस मिल पर पहुंची। जहां लोडिंग गाड़ी सहित राशन दुकान का 20 क्विंटल चावल, कीमत कीमत 4.2 लाख रुपए जब्त किया गया। क्राइम ब्रांच एवं खाद्य विभाग की टीम द्वारा एग्रो इंडस्ट्रीज का निरीक्षण किया गया तो मौके पर लोडिंग में 34 कट्टे चावल और हर एक कट्टे 50 किलो चावल भरे मिले इतना ही नही बड़ी चालाकी से 6 कट्टे लोडिंग से उतारकर मिल में अंदर छुपा कर रख दिये गए थे।कार्रवाई के दौरान 20 क्विंटल राशन का चावल कीमत करीब 4 लाख 20 हजार है उसे जब्त किया गया।

बताया जा रहा है कि अहीरखेडी महिला सहकारी उपभोक्ता भंडार मर्यादित बांक द्वारा संचालित शासकीय उचित मूल्य की दुकान से 12 रुपये प्रति किलो के हिसाब से चावल खरीदकर 16 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बेचने के लिए मेसर्स पलक एग्रो इंडस्ट्री राईस मिल पहुंचाए गए थे। जहां से चावल को और भी ऊंचे दामो पर बेचकर माफियाओं द्वारा मुनाफा कमाया जा सकता था।

इस दौरान क्राइम ब्रांच ने वाहन चालक शाहनवाज और अयूब खान को पकड़ लिया और आजाद नगर पुलिस के हवाले कर दिया। वही पलक एग्रो के मालिक राजेन्द्र श्यामनानी, मैनेजर विशाल आनंद पिता पूरनचंद बुलानी, अहीरखेडी महिला सहकारी उपभोक्ता भंडार मर्यादित बांक द्वारा संचालित शासकीय उचित मूल्य दुकान की अध्यक्ष ममता तोमर, विक्रेता अंशुलिका सागर, राशन दुकान संचालक अजय सागर दलाल शुभम चौहान के विरुद्ध थाना आजाद नगर में आवश्यक वस्तु अधिनियम के साथ ही अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। एएसपी क्राइम ब्रांच गुरुप्रसाद पाराशर ने बताया कि राशन माफिया पर की कार्रवाई के बाद प्रकरण पंजीबद्ध कार्रवाई की जा रही है।

https://vimeo.com/619077103

यह भी पढ़ें… इंदौर में लाउड स्पीकर हुए बैन, अब शहर में नहीं सुनाई देगी वायरलेस स्पीकर की कोलाहल