इंदौर, आकाश धोलपुरे। 70 करोड़ रुपये कीमती MDMA drug के कारोबार मामले में एक और आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी जूना रिसाला निवासी शाहिद खान है। शाहिद न्यूज पोर्टल (News portal) की आड़ में तस्करी करता था। लॉकडाउन के दौरान शाहिद न्यूज पोर्टल का प्रेस कार्ड लगाकर रईस उर्फ रईसउद्दीन की मदद से डेढ़ करोड़ से अधिक की MDMA ड्रग बेच चुका है।

बता दें कि इंदौर क्राइम ब्रांच ने एक और ड्रग पैडलर को गिरफ्तार किया है। दरअसल, पूर्व में पकड़ाए आरोपी दिनेश अग्रवाल से रईस और शाहिद के बारे में जानकारी मिली थी। रईस की गिरफ्तारी के बाद शाहिद फरार हो गया था। उसने बहन शाहिना बी के माध्यम से अग्रिम जमानत पेश की थी। मंगलवार रात आरोपी को उसके घर हुसैनी चौक जूना रिसाला से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में उसने बताया कि वह एक न्यूज पोर्टल चलाता था। लॉकडाउन के दौरान गले में प्रेस कार्ड लेकर घर से निकलता और न्यूज कवरेज करने की आड़ में सदर बाजार, बंबई बाजार, खजराना, आजाद नगर सहित विभिन्न क्षेत्रों में ड्रग के पैकेट सप्लाय करता था। आरोपी शाहिद अब तक करीब डेढ़ करोड़ रुपये कीमत की ड्रग बेच चुका है। पुलिस उसके मोबाइल नंबर, बैंक खातों की भी जांच कर रही है। क्राइम ब्रांच के मुताबिक ड्रग सप्लायर वेदप्रकाश व्यास इंदौर में महालक्ष्मी नगर निवासी दिनेश अग्रवाल को MDMA सप्लाई करता था। दिनेश से मुंबई, गुजरात, राजस्थान के पैडलर्स से MDMA खरीदते थे। शाहिद भी दिनेश के सीधे संपर्क में था और MDMA लेने लगा था। वह मोहम्मद कासिब, जुनैद, ईशान पठान, फैज शेख सहित अन्य स्ट्रीट पैडलर्स को MDMA बेचने लगा था। पुलिस को शंका है कि आरोपी अजमेर व गुजरात में भी सप्लाई करता था। इंदौर डीआईजी मनीष कपूरिया ने बताया कि पुलिस ने आरोपी के बयानों के आधार पर रिपोर्ट तैयार की है और ज्यादातर आरोपी लॉकडाउन में ही तस्करी शुरू करना कुबूल रहे हैं। अब पुलिस आरोपी शाहीद से पूछताछ कर रही है कि उसके कनेक्शन किन-किन लोगो से और राज्यों में है।