आबकारी अधिकारी विवाद मामला, शिकायतकर्ता पर ही हुआ इसलिए प्रकरण दर्ज

इंदौर, आकाश धोलपुरे।  इंदौर (Indore news) की भंवरकुआ थाना पुलिस ने एक महिला की शिकायत पर आबकारी अधिकारी (Excise Officer) और उनके रिटायर्ड पुलिस अफसर पिता सहित तीन लोगों पर दहेज प्रताड़ना के मामले में केस दर्ज किया था लेकिन इस मामले में अब जांच के बाद नया मोड़ आ गया है। जिसमें युवती द्वारा पेश किए जाने वाले शादी के दस्तावेज फर्जी निकले जिसके बाद मामले में पुलिस महिला खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। अब पुलिस महिला की तलाश कर रही है।

दरअसल, नेमावर रोड निवासी फरहत नाजनीन ने पुलिस को शिकायत की थी कि वह और आबकारी अधिकारी विनय रंगशाही साथ में पढ़ते थे। इसी दौरान दोनों के बीच दोस्ती हो गई। ये दोस्ती प्यार में तब्दील हो गई बाद में उन्होंने शादी कर ली। फरहत भी स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ है। फरहत ने शिकायत में बताया था कि शादी के बाद से ही विनय ने दहेज के लिए परेशान करना शुरू कर दिया। विनय के पिता अशोक रंगशाही जो रिटायर्ड सीएसपी रहे हैं और उनकी पत्नी भी फरहत को परेशान करती थी।

ये भी पढ़ें – MP News : राज्यपाल मंगू भाई पटेल पहुंचे जेल, बंदियों को दी समझाइश

शिकायत के बाद भंवरकुआ पुलिस ने तीनों पर दहेज़ प्रताड़ना व अन्य धाराओं में केस दर्ज किया था। फरहत ने विवाह के प्रमाण स्वरूप थाना भंवरकुआ में विवाह तथा निकाह के सम्बंध में दो दस्तावेज प्रस्तुत किये थे। जब पुलिस ने शादी के दस्तावेज जांच की तो वो फर्जी निकले। जिसके बाद भंवरकुआ पुलिस ने फरहत के खिलाफ फर्जी कागज तैयार करने सहित धारा 420, 467 ,468 ,471 विभिन्न धाराओं  ने मामला दर्ज किया है। अधिकारियों के मुताबिक इस मामले में कोर्ट के माध्यम से फरहत द्वारा दर्ज कराए प्रकरण का खात्मा करवाया जाएगा और मामले में फरहत को गिरफ्तार कर जेल भी भेजा जाएगा।