इंदौर। आकाश धौलपुरे। 

पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने आज इंदौर में एक ऐसा बयान दिया है जिसके राजनीतिक हल्को में ताई की नाराजगी भी केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ नजर आ रही है। दरअसल, पूर्व लोकसभा  स्पीकर ने बुधवार रात को बास्केटबॉल कोर्ट में नए कोर्ट का शुभारंभ किया लेकिन इसी दौरान उन्होंने बढ़ती फीस पर अपनी चिंता भी जता दी। इंदौर में ताई ने कहा कि जेएनयू में फीस बढ़ोतरी के मामले पर कहा कि फीस क्यों बढ़ रही है, कितनी होनी चाहिए, क्या नही ये सब प्रशासिक मामले है तो जेएनयू का प्रशासन बैठकर चिंता करे। मगर ये भी नही कहती हूँ कि सब प्रकार की महंगाई बढ़ रही है। हम यहां देखते है कि हमारे बच्चो की फीस कितनी है तकलीफ तो है मगर उनको सुलझाने के तरीके अलग होना चाहिए।  ताई ने इस दौरान इंदौर में बास्केटबॉल कोर्ट में हाथ भी आजमाया हाथ,  बास्केटबॉल खेलती ताई को देखकर सभी को सुकून भी आया लेकिन सवाल ये उठता है कि ये ताई ने मोदी सरकार पर सवाल उठाया है या फिर उन्हें ये संज्ञान में आ गया है कि मोदी है तो कुछ मुमकिन नही ? सवाल है जिसका जबाव महंगाई को खत्म कर देना होगा पीएम मोदी को और जबाव ये भी देना होगा कि देश बढ़े और सब पढ़े क्योंकि मामला जेएनयू का है।