इंदौर : 4 साल की मासूम के साथ रेप की वारदात कर हत्या, आरोपी फरार

इंदौर। आकाश धोलपुरे। 

हैदराबाद रैप कांड और हत्या के बाद देशभर में दोषियों  को फांसी की सजा दी जाने की मांग की जा रही है वही दूसरी ओर ऐसे दुष्कृत्य को अंजाम देने वालो के हौंसले पस्त नही हो रहे है। इंदौर के महू में तो बदमाश ने ऐसी घिनौनी वारदात को अंजाम दिया कि चारो ओर से अब पीड़ित के परिजनों को जल्द इंसाफ दिए जाने की मांग उठने लगी है। दरअसल, इंदौर की महू तहसील में एक बदमाश ने 4 साल की मासूम को  सांई मंदिर के सामने से उठाया और सिमरोल रोड़ स्थित आर्मी क्वार्टर के बंगला नम्बर 122 में उसके साथ रेप की वारदात को अंजाम देकर मौत के घाट उतार दिया। बताया जा रहा है मासूम अपने माता पिता के साथ रोज की ही तरह सड़क पर सो रही थी और रविवार देर रात को बदमाश आया और उसने सबसे पहले मासूम को सड़क से उठाया। हालांकि घटना के बाद आरोपी अभी भी अज्ञात है लेकिन मिली जानकारी के मुताबिक अज्ञात आरोपी मासूम को मौके से 500 मीटर दूर सिमरोल रोड़ पुल के पास प्रशांति हॉस्पिटल के सामने स्थित आर्मी क्वार्टर क्षेत्र के सुनसान इलाके में ले गया। जहां चांद शाह वली दरगाह के पीछे स्थित आर्मी के बंगला नम्बर 122 में उसने पहले तो अश्लीलता की हदे पार कर दी और फिर उसने मासूम का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इधर, जैसे ही सुबह हुई तो माता – पिता ने बच्ची को साथ मे ना पाकर उसे ढूंढने के लिए पुलिस की शरण ली जिसके बाद 4 साल की मासूम को गुमशुदा मानकर पुलिस ने शिकायत दर्ज कर ली। लेकिन अचानक पुलिस के भी होंश उस वक्त फाख्ता हो गए जब मुखबिर से उन्हें सूचना मिली की 5 दशक से भी अधिक पुराने हो चले खण्डर में एक मासूम का शव पड़ा है। तस्दीक करने के बाद पता चला कि ये वो ही मासूम है जिसके माता – पिता उसे ढूंढ रहे है। पुलिस ने बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा। अब जब घटना में मासूम के साथ रेप की बात सामने आई तो पुलिस के लिए एक नई चुनौती खड़ी हो गई और वो वहशी दरिंदे की तलाश में जुट गई। एडिशनल एसपी धर्मराज मीणा ने बताया कि पुलिस ने महू क्षेत्र के सभी स्थानों के सीसीटीवी की जांच शुरू कर दी है और जल्द ही आरोपी पुलिस के शिकंजे में होगा हालांकि उन्होंने ये भी बताया कि एक स्थान से सीसीटीवी में संदिग्ध नजर आ रहा है लेकिन फुटेज ब्लर होने के चलते एक्सपर्ट की मदद ली जा रही है। वही उन्होंने कहा कि महू में महिला सुरक्षा को लेकर पुलिस गम्भीर है और ताजा घटना के बाद पुलिस बीते 36 घण्टे से लगातार आरोपी की तलाशी में जुटी हुई है। वही उन्होंने बताया कि पीड़ित परिजनों को तत्काल 25 हजार रुपए की आर्थिक सहायता भी दी जा चुकी है। इस जघन्य घटना के बाद महू की कोतवाली थाना पुलिस में मैराथन बैठकों का दौर अभी भी जारी है और हर सीसीटीवी फुटेज को खंगालकर आरोपी के हुलिए का पता लगाने के साथ ही पुलिस ने खुफिया तंत्र को अलर्ट पर रखा है। इधर, सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर ये बात भी सामने आई है कि आरोपी ने रात 2 बजे के बाद वारदात को अंजाम दिया है वही घटना स्थल पर उसने शराब भी पी होगी। ऐसे में अब पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती ये है कि आरोपी को किसी भी कीमत पर पकड़ा जा सके। घटना के बाद पुलिस की पेट्रोलिंग पर सवाल उठ रहे है क्योंकि सिमरोल ब्रिज के नीचे स्थित साईं मंदिर कोतवाली थाना महू के करीब है जहां से बदमाश ने मासूम को उठाया था।