मप्र : लोकायुक्त के हत्थे चढ़ा लेखापाल, 50 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार

government-school-accountant-caught-50-thousand-rupee-bribe-mhow

इंदौर/महू।

मध्यप्रदेश के इंदौर के महू में लोकायुक्त पुलिस ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। यहां टीम ने एक लेखापाल को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि लेखापाल ने रिटायर्ड शिक्षक से अर्जित अवकाश नगदीकरण के एवज में रिश्वत की मांग की थी। यह कार्रवाई इंदौर लोकायुक्त द्वारा की गई है। पुलिस ने आरोपी लेखापाल के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। 

मिली जानकारी के अनुसार, महू के कोदरिया के उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के लेखापाल को लोकायुक्त पुलिस की टीम ने 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। आरोप है कि रिटायर्ड शिक्षक कमल किशोर सोनी निवासी बगड़ी(धार) से लेखापाल मुकेश वर्मा ने अर्जित अवकाश नगदीकरण के एवज में 50 हजार रुपए मांगे थे। रिटायर्ड शिक्षक ने इस बात की शिकायत लोकायुक्त पुलिस को कर दी, जिसके बाद पुलिस उप अधीक्षक प्रवीण सिंह बघेल के नेतृत्व में टीम ने उसे रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़ लिया।जैसे ही लेखापाल के हाथ धुलवाए गुलाबी हो गए। टीम ने भ्रष्ट लेखापाल केखिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

लोकायुक्त एसपी इंदौर एसएस सराफ ने बताया कि आवेदक कमल किशोर सोनी सेवा निवृत्त शिक्षक, निवासी -ग्राम बगड़ी जिला धार द्वारा शिकायत की गई थी कि आरोपी मुकेश वर्मा लेखापाल, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोदरिया महू द्वारा उससे 50 हजार रुपये रिश्वत मांगी जा रही हैं।यह कार्रवाई इंदौर के पुलिस उप अधीक्षक प्रवीण सिंह बघेल, निरीक्षक राहुल गजभिये, निरीक्षक महेश सुनैया, आरक्षक विजय शेलार .चेतन परिहार, शैलेन्द्र बघेल व चालक शेरसिंह द्वारा की गई है।