Indore News : कोरोना ने बढ़ाई सरकार की टेंशन, प्रशासन अलर्ट, सख्ती की तैयारी

इंदौर कलेक्टर (Indore Collector) मनीष सिंह ने बताया कि शासन की ओर से रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू कर्फ्यू को सख्ती से लागू कराया जाएगा। वैवाहिक सीजन को देखते हुए रात में केटरिंग व्यवसाय से जुड़े लोगों को आने जाने और यात्री बसों और माल ढोने वाले वाहनों को अनुमति रहेगी।

INDORE

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना (Corona) की रडार पर आए इंदौर को लेकर न सिर्फ इंदौर जिला प्रशासन (Indore District Administration) चिंता में आ गया है बल्कि मध्यप्रदेश सरकार (Shivraj Government) में हड़कंप मच गया है। ऐसे में सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) द्वारा VC के जरिये ली गई समीक्षा बैठक के एक दिन बाद शनिवार (Saturday) रात को इंदौर में जिला आपदा प्रबंधन समूह (Disaster management group) की बैठक संपन्न हुई।

बैठक में जिला प्रशासन को जनप्रतिनिधियों ने शहर हित मे कई सुझाव दिए। जिला आपदा प्रबंधन समूह के सभी सुझाव राज्य शासन को भेज दिए गए है और राज्य शासन से मंजूरी मिलने के बाद कई नियमों को कोरोना को देखते हुए लागू किया जाएगा।रेसीडेंसी में आयोजित बैठक में जिला कलेक्टर मनीष सिंह (Indore Collector Manish Singh), डीआईजी हरिनारायणचारि मिश्र, निगमायुक्त प्रतिभा पाल, सांसद शंकर लालवानी (Shankar Lalwani), बीजेपी नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, विधायक मालिनी गौड़ (Malini Gaur), आकाश विजयवर्गीय (Akash Vijayvargiya), महेंद्र हार्डिया, तुलसी सिलावट (Tulsi Silavat) सहित जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

जहां प्रशासन ने गृह विभाग (Home Department) से जारी आदेश के बाद रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night Curfew) लागू कर दिया है वही भोपाल की तर्ज पर व्यापारिक संगठनों के द्वारा स्वैच्छिक तौर बाजार जल्द बंद करने पर भी चर्चा भी की गई। इसके अलावा मास्क को लेकर सख्ती, सोशल डिस्टेंसिंग के पालन, जिन क्षेत्रों से मरीज आ रहे है वहां सेनेटाइजेशन की पूर्ण व्यवस्था सहित अन्य कोविड नियमो का पालन कराने जैसे विषयों पर सुझाव दिए गए।

इधर, 25 नवंबर से शुरू होने वाले लग्नसरा और वैवाहिक सीजन को लेकर भी सुझाव राज्य शासन को भेजे गए है। बीजेपी नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे ने बैठक के बाद बताया कि शहर हित को ध्यान में रखते हुए सुझाव सीएम शिवराज सिंह चौहान को भेजे गए है वही उन्होंने बताया कि शहर में आयोजित होने वाले सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक आयोजन में लोगो की संख्या पर नियंत्रण को लेकर भी सुझाव दिए गए। इधर, बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय ने कहा कि सर्दी में कोरोना का प्रभाव ज्यादा रहता है लिहाजा प्रशासन को सुझाव दिया गया है कि वो मास्क को लेकर सख्ती बरते।

आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में आये सुझावों पर इंदौर कलेक्टर (Indore Collector) मनीष सिंह ने बताया कि शासन की ओर से रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू कर्फ्यू को सख्ती से लागू कराया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने मीडिया को बताया कि वैवाहिक सीजन को देखते हुए रात में केटरिंग व्यवसाय से जुड़े लोगों को आने जाने और यात्री बसों और माल ढोने वाले वाहनों को अनुमति रहेगी वही औद्योगिक इकाइयों को भी रियायत रहेगी। राज्य शासन को भेजे गए सुझाव के शादियों में एकत्रित होने वालों मेहमानों को संख्या, वही शव यात्रा शामिल होने वाले लोगो और उठावने में भीड़ न एकत्रित हो इस संदर्भ में भी राज्य शासन को सुझाव भेजे गए है और राज्य शासन की ओर से सुझावो पर मोहर लगाने के बाद अंतिम रूप से आदेश जारी किए जाएंगे।

फिलहाल, आने वाले दिनों में ये तो तय है कि सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजन में एकत्रित होने वाले लोगो की संख्या के निर्धारण के संबंध में आज इंदौर के लिहाज से आदेश जारी किए जा सकते है ताकि सोशल गेदरिंग पर रोक लगाई जा सके और कोरोना को फैलने से रोका जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here