इंदौर के एक एटीएम में हाईटेक चोरी, जांच में जुटी पुलिस

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

परदेशीपुरा थाना क्षेत्र में कल रात को चोरों ने हाई टैक चोरी को अंजाम दिया। परदेशीपुरा के इलेक्ट्रॉनिक कॉम्प्लेक्स के क्लर्क कॉलोनी स्थित एसबीआई के एटीएम में जिस तरह से चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया उससे पुलिस भी सकते में आ गई है। बताया जा रहा है कि जिस एटीएम पर कल रात को चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया है वहां पहले भी एटीएम मशीन से जुड़े जानकार चोरों ने धावा बोला था जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्त में लिया था और साथ ही पुलिस ने इसी एटीएम के संबंध में होल्डिंग कंपनी को सुरक्षा संबंधी मामले को लेकर हिदायत भी दी थी लेकिन एक बार फिर अज्ञात चोरों ने सुरक्षा में लापरवाही का फायदा उठाकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया।

घटना का पता उस वक़्त चला जब होल्डिंग कंपनी के कर्मचारी एटीएम से पैसे नहीं निकलने की शिकायत मिलने पर मौके पर पहुँचे। उस दौरान एटीएम का लॉक खुला मिला। तुरन्त इसकी सूचना पुलिस को दी गई। जानकारी लगते ही एएसपी प्रशांत चौबे पुलिस बल के साथ मौके पर पहुँचे और मामले की पड़ताल में जुट गए।

इधर, एटीएम होल्डिंग कंपनी के कर्मचारी लोकेंद्र की माने तो उन्हें कॉल सेंटर से सूचना मिली थी कि एटीएम बंद पड़ा है जिसे सुधारने के लिहाज से वो वहां पहुंचे थे और जब एटीएम खोला गया तो पता चला एटीएम का वार्ड रो खुला हुआ जिसमें रुपए रखे जाते है। होल्डिंग कम्पनी के कर्मचारी की माने तो एटीएम में शुक्रवार तक 5 लाख 35 हजार 500 रुपये रखे थे और कल उसमे 10 लाख रुपए और फीड किये थे लेकिन आज उसमे 13 लाख 83 हजार 500 रुपए ही मिले। वही कर्मचारी ने बताया कि एटीएम में लगे सीसीटीवी के तार भी निकाल दिए गए थे।

इधर, मौके पर पहुंची पुलिस तफ्तीश में तो जुट गई है लेकिन पुलिस को पूरा यकीन है कि हाईटेक वारदात में तकनीकी के जानकार शामिल है जिनका पता जल्द लगा लिया जाएगा। एएसपी प्रशांत चौबे के मुताबिक एटीएम के सीसीटीवी कैमरे बंद मिले है। वही जिस तरह से चोरी हुई उससे प्रतीत होता है कि शातिर चोर को एटीएम की पूरी जानकारी थी। वही पुलिस की माने तो एटीएम पर ना तो गार्ड और ना ही आलार्म चालू है जो कि एक बड़ी खामी है। फिलहाल पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वही घटना की जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि चोरों ने कितनी राशि पर हाथ साफ किये है।