प्रदेश में 11 तरह के माफिया पर हुई करवाई, भगवान को भी नहीं छोड़ा : गृहमंत्री

इंदौर। प्रदेश में माफिया विरोधी अभियान को लेकर भाजपा जहां माफिया के आड़ में आम जनता पर कार्रवाई का आरोप लगाते हुए जिलों में प्रदर्शन कर रही है। वहीं सरकार के मंत्री माफिया के खिलाफ की गई कार्रवाई से मिली सफलता के बारे में बता रहे हैं। गृहमंत्री बल बच्चन ने इंदौर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि 11 तरह के माफिया चिन्हित किये गए हैं जिनपर लगातार कार्रवाई जारी है। सरकार ने भूमाफिया, शराब माफिया, मिलावटखोर, सहकारी माफिया और वसूली माफिया समेत 11 तरह के माफियाओंपर कार्रवाई की। इनके कब्जे से हमने प्रदेश में 1500 करोड़ से ज्यादा की जमीन मुक्त करवाई।

उन्होंने दावा किया कि 15 साल में इन माफियाओं ने भगवान को भी नहीं छोड़ा, अब हम इन्हें नहीं छोड़ेंगे।
भगवान की जमीन पर भी भूमाफियों ने कब्जा कर लिया था, हमने इनके खिलाफ भी कार्रवाई की। हमने इंदौर से ही इनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की थी, जो भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर सहित पूरे प्रदेश में चली।
मंदसौर की पशुपतिनाथ मंदिर की ढाई सौ करोड़ की जमीन पर भूमाफियाओं ने कब्जा कर रखा था, जिसे सरकार से मुक्त करवाया है। उज्जैन की करीब 470 करोड़ की जमीन मुक्त करवाई है। इस प्रकार इंदौर, भोपाल सहित पूरे प्रदेश में हमने करीब 1500 करोड़ रुपए की जमीन मुक्त करवाई है।

भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए गृहमंत्री ने कहा हमें विरासत में गुंडों और अपराधों वाला मध्य प्रदेशमिला था, जिससे मुक्ति के लिए हमारी सरकार ने बीड़ा उठाया। भाजपा सरकार में भू-माफिया बिन डर और भय के लोगों के जमीन, प्लाट, मकान हड़प लेते थे। हमने भूमाफिया, सहकारी समिति, वसूलीखोर, ड्रग माफिया, पत्रकारिता की आड़ में गोरखधंधा करने वाले, अवैध माफिया, शराब तस्कर और मिलावटखोरों पर कार्रवाई की है। उन्होंने बताया 615 भू माफिया पर कार्रवाई की गई। 694 शराब माफिया पर शिकंजा कसा गया। 150 मिलावट माफिया पर कार्रवाई की। इसी तरह 69 सहकारी माफिया पर कार्रवाई की गई। 149 वसूली माफिया के खिलाफ अभियान चलाया गया। 1053 वाहनों को जब्त किए गए। 1500 करोड़ की सरकारी भूमि को मुक्त कराया गया। 7 सौ से ज्यादा करोड़ की मंदिर की जमीन मुक्त करवाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here